विधानसभा : प्रदेश में एक भी नहीं है श्रमिक चिकित्सालय : श्रममंत्री   

०० विधायक देवजी भाई पटेल ने किया सवाल, प्रदेश में कितने श्रमिक चिकित्सालय व औषधालय हैं संचालित

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र में बुधवार को श्रम मंत्री ने कहा कि, प्रदेश में एक भी श्रमिक चिकित्सालय नहीं है। मंत्री भईयालाल राजवाड़े ने ये जवाब विधायक देवजी भाई पटेल के एक सवाल के जवाब में दिए।

विधानसभा के बजट सत्र में पटेल ने पूछा था कि, प्रदेश में कितने श्रमिक चिकित्सालय व औषधालय संचालित हैं। इसके लिखित जवाब में मंत्री ने उत्तर दिया कि प्रदेश के रायपुर, बिलासपुर, जांजगीर-चांपा व रायगढ़ में चिकित्सालय का निर्माण कराया जा रहा है। मंत्री भैयालाल राजवाड़े ने कहा कि, चिकित्सालय और औषधालय दोनों में अंतर है। श्रमिकों का औषधालय में इलाज किया जाता है। तीन श्रमिक चिकित्सालय बनाए जा रहे हैं। देवजीभाई पटेल ने कहा कि, आपके विभाग से स्पष्ट जवाब आना चाहिए था। इस पर मंत्री भैयालाल ने माना कि, वाकई इस पर जवाब अधूरा है। उन्होंने कहा कि, अधिकारियों को स्पष्ट जवाब देना चाहिए था।

 

 

error: Content is protected !!