कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय भवन में भूपेश ने फहराया तिरंगा

०० गणतंत्र दिवस पर  कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल दिया संदेश, हमारे संविधान में हर भारतीय की आकांक्षाओं एवं अपेक्षाओं की अनुगूंज

०० भाजपा सरकार की असफलताओं के विरूद्ध कांग्रेस अनवरत संघर्षशील, सोनिया गांधी तथा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का मार्गदर्शन हमें प्राप्त

रायपुर। गणतंत्र दिवस की 68वीं वर्षगांठ पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्यालय कांग्रेस भवन रायपुर में झंडा फहराया। इस अवसर पर जनता के नाम प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का संदेश पढ़ा। संदेश इस प्रकार है हमें गर्व है कि, कांग्रेस के ही संघर्ष का प्रतिफल है, हमारा गणतंत्र, 26 जनवरी 1950 को प्रदत्त संविधान, कांग्रेस के ही सपनों का साकार रूप है। हमारे संविधान में हर भारतीय की आकांक्षाओं एवं अपेक्षाओं की अनुगूंज हमें साफ सुनाई पड़ती है, हमारा संविधान एक प्राणवान दस्तावेज है, जिसे हमारे महान देशभक्तों एवं बुद्धिजीवियों ने रचा। आज सचमुच एक ऐतिहासिक दिन है, 68 वर्ष पहले बना हमारा संविधान लोकतंत्र एवं कानून के राज का, सामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण का, हमारी देश की एकता को मजबूत करने के साथ-साथ हमारी अनेकताओं का अभिनंदन करने वाला संविधान है, जिसमें हर भारतवासी का दिल धड़कता है। हमारा संविधान, हमारे स्वाभिमान का प्रतीक है।

 

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने ही, देश का सफलतापूर्वक नेतृत्व कर उसे संसार के स्वाधीन राष्ट्रो के बीच गरिमामय स्थान पर प्रतिष्ठित कराया। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नेतृत्व में सत्य, अहिंसा एवं सत्याग्रह के प्रयोग से प्राप्त हमारी आजादी विश्व में हुई क्रांतियों में अपना अद्वितीय स्थान रखती है। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक, लाला लाजपत राय, गोपाल कृष्ण गोखले, पं. मोतीलाल नेहरू, नेताजी सुभाषचंद बोस, देशबंधु चितरंजन दास, बाबू राजेन्द्र प्रसाद, डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन, पं. जवाहर लाल नेहरू, सरदार वल्लभ भाई पटेल, डॉ. भीमराव अंबेडकर, मौलाना अबुल कलाम आजाद, सरोजनी नायडू, आचार्य कृपलानी, लाल बहादुर शास्त्री एवं श्रीमती इंदिरा गांधी तथा राजीव गांधी हमारे राष्ट्रीयता का प्रतीक बनें। साथियों, 132 वर्षो से देश के जन-जन से जुड़ी कांग्रेस ही एकमात्र ऐसी संस्था है, जिसने देश की उन्नति एवं विकास के कार्यो को जन-जन तक पहुंचाने के लिये निष्ठापूर्वक देश की सेवा की। अणुशक्ति के रूप में भारत का उदय कांग्रेस की ही देन है। पिछली कांग्रेस सरकारों के महान कार्यो के द्वारा ही, भारत आज पूरे विश्व में एक महत्वपूर्ण शक्तिशाली देश के रूप में पहचाना जाता है। परंतु खेदजनक है कि वर्तमान भाजपा की केन्द्र सरकार ने पिछले साढ़े तीन साल के शासन में उन्मादी राष्ट्रवाद से भरी मोदी सरकार की जनविरोधी नीतियों ने संपूर्ण देश को विचलित कर दिया है। हमारे संविधान में निहित भारतीयता की सोच को नष्ट करने का काम भाजपा सरकार कर रही है। यही नहीं, केन्द्र की जनविरोधी नीतियों के कारण समाज के विभिनन वर्गो के बीच असंतोष बढ़ा है। प्रधानमंत्री द्वारा केवल नसीहतें ही, परोसी जा रही है। लोकपाल विधेयक पर खामोशी है, कालेधन पर अब कोई चर्चा नहीं होती, लोकतंत्र के तीनों स्तंभ न्यायपालिका, विधायिका, कार्यपालिका और चौथा स्तंभ मीडिया को भाजपा सरकार द्वारा लगातार कमजोर किया जा रहा है। अभी ताजा घटना सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ जजों ने मीडिया के सामने जो बाते कही, वह प्रजातंत्र के लिये बेहद चिंतनीय है। भाजपा के शासन में लोकतंत्र पूरी तरह खतरे में है। भाजपा द्वारा देश एवं प्रदेश सभी जगह संविधान की धज्जियां उड़ायी जा रही है।साथियों, आज के इस पावन दिवस पर मुझे दुःख के साथ कहना पड़ रहा है, कि जिन सपनों को लेकर हमने छत्तीसगढ़ राज्य बनाया था, भाजपा के 14 वर्षो के कुशासन ने इन सपनों को चकनाचूर कर दिया है। प्रदेश का हर नागरिक भाजपा के भ्रष्टाचार से परेशान है, प्रदेश की वित्तीय स्थिति भी अच्छी नहीं है, लचर कानून व्यवस्था, हर तरफ कमीशनखोरी, किसान हताश एवं कर्ज के बोझ तले दबा है, 2100 रूपये धान का समर्थन मूल्य एवं 300 रूपये बोनस का झूठा वायदा, आउटसोर्सिंग के द्वारा छत्तीसगढ़ियों का हक छीना जा रहा है, बेरोजगारी चरम पर है, नक्सल समस्या जस की तस है। भाजपा सरकार आदिवासियों के संवैधानिक अधिकारों का उल्लंघन करते हुये उनसे उनकी भूमि छीनने के लिये प्रयासरत है, यह सरकार हर ओर असफल साबित हुई है।साथियों, प्रदेश कांग्रेस पूरी तरह सतर्क है। भाजपा सरकार की असफलताओं के विरूद्ध कांग्रेस अनवरत संघर्षशील है। प्रदेश कांग्रेस ने विगत दिनों में सैकड़ो प्रदर्शन किये, अनेकों आंदोलनों एवं अपनी पदयात्राओं के द्वारा भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के विरूद्ध भाजपा सरकार को चेताया है। प्रदेश स्तरीय आक्रोश रैली, किसानों के हक के लिये प्रदर्शन, प्रदेश के आदिवासियों के हित में जनाधिकार महासभा का विशाल आयोजन, केन्द्र सरकार के अव्यवहारिक निर्णय के विरूद्ध काला दिवस, प्रियदर्शनीय इंदिरा गांधी जनाधिकार पदयात्रा, भाजपा सरकार की किसान विरोधी नीतियो के विरोध में किसान जन अधिकार पदयात्रा करते हुये कांग्रेस लगातार संघर्षशील है।साथियों, यह वर्ष चुनावी वर्ष है। आप सभी कांग्रेसजनों से मेरा विनम्र आग्रह है कि सभी कार्यकर्ता भाजपा की कुटिलताओं से सावधान हो जाए। हर नागरिक, हर मतदाताओं से मिलें, उनके सुख-दुख के साथी बनें, उन्हें विश्वास दिलायें कि, आने वाली कांग्रेस की सरकार उनकी अपनी होगी। कांग्रेस आपके हित एवं आपकी उन्नति के लिये कार्य करेगी। कांग्रेस की हमारी प्रिय नेता श्रीमती सोनिया गांधी तथा कांग्रेस अध्यक्ष श्री राहुल गांधी का मार्गदर्शन हमें, प्राप्त है। आईये हम सब एक-दूसरे का हाथ थामकर भाजपा के कुशासन को उखाड़ फेंके। अगली सरकार अवश्य ही, कांग्रेस की होगी। प्रदेश की खुशहाली हमारा लक्ष्य होगा और प्रदेशवासियों की सेवा हमारा कर्तव्य है।

 

 

error: Content is protected !!