अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश ने आजीवन कारावास की सुनाई सजा

 

मुंगेली- मुंगेली जिले के थाना पथरिया के 2014 के एक प्रकरण में दहेज के लिए अपनी गर्भवती पत्नी को रॉड से छेदकर गला दबाकर मार डालने के मामले में जिला न्यायालय की अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश श्रीमती नीलिमा सिंह बघेल ने आरोपी राजकुमार निवासी ग्राम गोइन्द्री थाना पथरिया को प्रकरण में दहेज हत्या प्रमाणित पाते हुए धारा- 304 बी एवं धारा- 302 भा.द.वि. के तहत आजीवन कारावास एवं एक हजार रूपये जुर्माने की सजा सुनाई। प्रकरण में न्यायालय ने दहेज के लिए विवाह के तत्काल बाद से आरोपी की पत्नी की मृत्यु होने तक उसे शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित करना साक्ष्य से प्रमाणित पाया। उल्लेखनीय है कि मृतका की उम्र मात्र 20 वर्ष थी एवं वह 6 माह की गर्भवती थी। प्रकरण में शासन पक्ष की ओर से लोक अभियोजक देवेन्द्र पाण्डेय ने पैरवी की।

 

error: Content is protected !!