टाडा स्कूल के बच्चो को दी जा रही मध्यान्ह भोजन में सड़ी-गली सब्जियाँ

०० बच्चो के द्वारा शिकायत किये जाने के बावजूद को नहीं दिया जा रहा गुणवत्तापूर्ण भोजन

कोटा| ग्राम पंचायत टाडा के शासकीय पूर्व माध्यमिक  शाला में बच्चों को सड़े गले सब्जी दिया जा रहा  है जिसमे की स्व सहायता समूह के द्वारा  स्कूल में मध्यान भोजन चलाया जा रहा है और वहां के पढ़ने वाले बच्चों को सही तरीके से पोस्टिक सब्जी नहीं दिए जा रहे हैं जिससे कि पढ़ने वाले बच्चे बीमार भी हो सकते हैं|

स्कूल में पढ़ने वाले बच्चो ने बताया कि इस स्कूल में 140 बच्चे हैं जिसमें मध्यान भोजन चलाने वाले द्वारा 10-12 नाग टमाटर ही सब्जी बनाने के लिए दिए जाते हैं और वहां के पढ़ने वाले बच्चो ने बताया कि सही तरीके से हम लोगों को खाना भी नहीं दिए जाते हैं और हम लोगों के द्वारा कई बार वहां के सरपंच और अधिकारी को शिकायत कर चुके हैं लेकिन आज तक इस ओर किसी ने ध्यान नहीं दिया| पढ़ने वाले बच्चे अभी जो 12 जनवरी को ग्राम पंचायत में लोक सुराज अभियान में भी शिकायत किए हैं की इस स्कूल में सब्जी जो कि सड़े-गले रहते हैं उसी को खिलाया जाता है बच्चे अपने हक के लिए वहां के संचालक जो कि मध्यान भोजन चलाती है उसको बोलते हैं तो कहता है कि हमारे पास बजट नहीं है जितना बजट है उतने ही खिलाएंगे ऐसा बोला जाता है शासन-प्रशासन उन बच्चों के लिए इतना पैसा दे रही है उसके बाद भी उन बच्चों को पौष्टिक आहार मध्यान भोजन के माध्यम से नहीं दिए जा रहे हैं प्राथमिक शाला टाडा में आसपास के छोटे-छोटे बच्चे उस स्कूल में पढ़ने आते हैं शिकायत करने के बाद भी वहां की स्थिति नहीं सुधरी तो आने वाले समय में अगर बच्चों को हरी सब्जी नहीं खिलाया जाए तो उन बच्चों के लिए बीमारी होने का संकेत देती है जब इस बारे में अनुभागीय अधिकारी कोटा एसडीएम को जानकारी दी गई तो उनके द्वारा यह आश्वासन दिया गया है कि मैं जल्द से जल्द बीईओ तखतपुर को आदेशित करता हूं कि वहां जाकर जांच करें|

 

error: Content is protected !!