पचपेड़ीं थाना प्रभारी बांधे को एसपी ने किया निलंबित

०० मस्तुरी के पत्रकार पर थाना प्रभारी ने किया था एकपक्षीय कार्यवाही

०० अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के पदाधिकारियों व पत्रकारों ने एसपी से की थी थाना प्रभारी की शिकायत 

बिलासपुर| पचपेड़ीं थाना प्रभारी प्रशिक्षु उपनिरीक्षक को बिलासपुर पुलिस अधीक्षक ने निलंबित कर दिया है, स्थानीय लोगो की पचपेड़ीं थाना प्रभारी के खिलाफ लगातार शिकायते मिलने तथा हाल ही में पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज कर जेल भेजे जाने के खिलाफ पत्रकारों के आक्रोश को देखते हुए एसपी ने यह कार्यवाही की है| पचपेड़ीं थाना प्रभारी द्वारा क्षेत्र के पीडितो की फ़रियाद ना सुन रसूखदारो के इशारो पर कार्यवाही की जा रही थी, पीड़ित न्याय के लिए भटक रहे थे साथ ही क्षेत्र के पत्रकारों पर भी पद का दुरुपयोग कर झूठे मामले दर्ज किये जाने को लेकर स्थानीय लोगो में आक्रोश था जिसके परिणाम स्वरुप पचपेड़ीं थाना प्रभारी को निलंबित किया गया है|

पचपेड़ीं थाना प्रभारी प्रशिक्षु उपनिरीक्षक बलदेव बांधे द्वारा क्षेत्र में अवैध शराब, सट्टा, जुआ को लेकर उदासिनता बरती जा रही थी, पीडितो को न्याय के लिए लगातार भटकना पड़ रहा था साथ ही थाना प्रभारी की कार्यशैली को लेकर स्थानीय लोगो द्वारा पुलिस अधीक्षक से शिकायतें की गयी| आमजनता की शिकायतों के बाद भी पुलिस के उच्चधिकारियो ने पचपेड़ीं थाना प्रभारी बलदेव बांधे को कार्यशैली में परिवर्तन लाने के साथ साथ पुलिस की छबी जनता के सामने सुधारने कहा जा रहा था बावजूद इसके पचपेड़ीं थाना प्रभारी बलदेव बांधे द्वारा कार्य में सुधार नहीं लाया जा रहा था साथ ही उच्चधिकारियो के फ़ोन भी रिसीव नहीं कर रहे थे| पचपेड़ीं थाना प्रभारी द्वारा पीडितो की रिपोर्ट दर्ज नहीं किये जाने व क्षेत्र के रसूखदारो के इशारो पर झूठे मामलों में लोगो को फसाए जाने की शिकायते उच्चाधिकारियो को लगातार मिल रही थी जिसके बाद पचपेड़ीं क्षेत्र में पुलिस की छबी ख़राब किये जाने को लेकर पुलिस अधीक्षक मयंक श्रीवास्तव ने पचपेड़ीं थाना प्रभारी बलदेव बांधे को निलंबित कर उनके खिलाफ एएसपी अर्चना झा को प्रारंभिक जांच का आदेश दिया है| गौरतलब है कि इससे पूर्व भी पचपेड़ीं थाना प्रभारी रहे केडी प्रभाकर द्वारा भी क्षेत्र में कानून व्यवस्था में उदासीनता बरतने व पीडितो की रिपोर्ट दर्ज नहीं किये जाने के मामले में निलंबित किया गया था,उनके निलंबन के बाद प्रभारी के रूप में आये बलदेव बांधे भी उनके ही नक्शेकदम पर चलते हुए पुलिस की छबि धूमिल करते रहे जिसके चलते निलंबन की कार्यवाही की गयी|

पत्रकार के खिलाफ किया था जूर्म दर्ज, पत्रकारों ने जताया था जमकर आक्रोश :- हाल ही में पचपेड़ीं थाना प्रभारी बलदेव बांधे द्वारा मस्तुरी के पत्रकार के खिलाफ जुर्म दर्ज कर जेल भेजने की कार्यवाही की थी जिसके खिलाफ अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा कानून के पदाधिकारियों सहित पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक को पचपेड़ीं थाना प्रभारी बलदेव बांधे की कार्यशैली को लेकर शिकायत-ज्ञापन सौपा था साथ ही पत्रकार को साजिश के तहत फ़साने की बात कही थी| मस्तुरी के पत्रकार के खिलाफ जुर्म दर्ज कर जेल भेजे जाने को लेकर जिले सहित प्रदेश के पत्रकारों में आक्रोश व्याप्त है जिसको लेकर भी पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौपकर मामले की निष्पक्ष जांच किये जाने की मांग की है, पत्रकारों के आक्रोश व थाना प्रभारी बलदेव बांधे के खिलाफ की गयी शिकायत के बाद एसपी ने पचपेड़ीं थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया है|

error: Content is protected !!