सीडी कांड में भूपेश बघेल का कोई लेना देना नहीं है : पी.एल.पुनिया

०० गुरु घासीदास जयंती पर दौरा राजनैतिक नहीं : पुनिया

०० अजीत जोगी की कांग्रेस में वापसी पर कहा, जो चले गए उनकी वापसी पर विराम लग गया

रायपुर। गुरु घासीदास जयंती पर छत्तीसगढ़ का दौरा राजनैतिक नहीं था। यह कहना था कांग्रेस प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया का। मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस भवन में वार्ता में पुनिया पत्रकारों से मुखातिब हुए। इस दौरान पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल, विधायक धनेन्द्र साहू, प्रवक्ता ज्ञानेश शर्मा मौजूद थे।
पीएल पुनिया ने कहा कि, प्रदेश के इन पांच दिनों के दौरे में बाबा घासीदास की जन्म जयंती के विविध आयोजनों में सम्मिलित होने आया था। बाबा घासीदास ने सत्य अहिंसा का रास्ता दिखाया, नशाखोरी और जीवहत्या ना करने की सीख दी। कांग्रेस पार्टी भी गुरु घासीदास के सिद्धांतों पर चलने वाली पार्टी है। दौरे के बाद प्रदेश में सतनामी समाज के कितने प्रतिशत वोट साध पाएंगे के जवाब में पुनिया ने कहा कि, प्रदेश में गुरु घासीदास जयंती पर आना आस्था से जुड़ा है। यह राजनैतिक दौरा नहीं था।
पुनिया ने कहा कि, भाजपा में सत्य के अलावा सबकुछ है। भाजपा ने एक वायदा तो पूरा किया होता। यह कह कर टाल दिया जाता है कि ये तो चुनावी जुमला था। दिल्ली में बैठे लोग और रायपुर में बैठै लोग झूठ बोलते हैं। उन्होनें कहा कि, मगरलोड में 3 गायों की मौत का मामला भी उठाया। सीडी कांड पर पुनिया ने कहा कि इसमें भूपेश बघेल का कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा कि, प्रदेश की जनता जानती है कि कांग्रेस और भाजपा में सीधा मुकाबला है। यहां कोई तिसरी ताकत नहीं है। प्रदेश की पहली ताकत कांग्रेस पार्टी है। विधायक रेणु जोगी के कांग्रेस में रहने या अजीत जोगी के साथ जाने के संबंध में सवाल पर पुनिया ने कहा कि रेणु जोगी कांग्रेस की विधायक हैं। सदन में उपनेता हैं, कांग्रेस के पक्ष में वोट करती हैं। अजीत जोगी की कांग्रेस में वापसी के संबंध में उन्होंने कहा कि जो चले गए उनकी वापसी पर विराम लग गया। उन्होंने कहा कि, 31 अक्टूबर को विधायक धनेन्द्र साहू के क्षेत्र में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होने आउंगा। फिर 8 और 9 जनवरी को सरगुजा के दौरे पर आउंगा।

 

error: Content is protected !!