अंतिम पंक्ति के व्यक्ति के जीवन में खुशहाली है सु-शासन: देवजी भाई पटेल

०० सु-शासन दिवस के रूप में मनाया गया अटल जी का जन्म दिवस

०० मांढर के हाई स्कूल प्रागंण में आयोजित हुआ कार्यक्रम: महिलाओं को उज्ज्वला योजना के तहत गैस चूल्हा का वितरण

०० अटल जी के जीवन और विकास कार्यो पर आधारित लगी प्रदर्शनी

रायपुर| देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी जी के जन्म दिवस को कल यहां सु-शासन दिवस के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर जिले के धरसींवा विकासखण्ड के ग्राम मांढर के शासकीय हाई स्कूल प्रांगण में सु-शासन दिवस का कार्यक्रम आयोजित किया गया। छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष और धरसींवा के विधायक श्री देवजी भाई पटेल और उपस्थित अतिथियों ने केक काटकर अटलजी के सुदीर्घ आयु और स्वस्थ्य जीवन की मनोकामना की। इस अवसर पर उन्होंने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत 25 महिला हितग्राहियों को गैस के कनेक्शन और चूल्हा का वितरण भी किया साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मॉडल आवास निर्माण के पंाच हितग्राहियों को पंखा तथा स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण के लिए हितग्राहियों को प्रोत्साहन राशि के चेक प्रदान किए । इस अवसर पर अटल जी की जीवनी और उनके कृतित्व के साथ ही केन्द्र और छत्तीसगढ़ सरकार की विभिन्न उपलब्धियों पर आधारित विकास प्रदर्शनी भी यहां लगायी गई जिसका की बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने अवलोकन किया।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री देवजी भाई पटेल ने कहा कि अटल जी के नेतृत्व और प्रधानमंत्रीकाल में जो योजनाएं शुरू की गई थी उससे अंतिम पंक्ति के व्यक्ति के जीवन में खुशहाली आयी है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना देश में ग्रामीण विकास की सबसे बड़ी योजना साबित हुई है। अटल जी ने पोखरण में परमाणु परीक्षण कराके भारत देश को पूरी दुनिया के सामने एक शक्तिशाली देश के रूप में स्थापित किया है। अटल की अंतिम व्यक्ति के जीवन में खुशहाली की परिकल्पना को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में साकार किया जा रहा है। इन योजनाओं से गांव, गरीब, किसान, मजदूर सहित सभी लोगों के जीवन में खुशहाली देखी जा सकती है। श्री पटेल ने इस अवसर पर विभिन्न योजनाओं के तहत क्षेत्र के हाई स्कूलों में शौचालय निर्माण के लिए 5 लाख रूपए, नवीन हाई स्कूलों में प्रार्थना शेड व आहाता निर्माण के लिए 20 लाख रूपए, सीसी रोड के लिए 2 लाख रूपए की घोषणा भी की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री नीलेश क्षीरसागर ने कहा कि जो योजना जिनके लिए बनी है उन्हें उनका भरपूर लाभ मिले यही सु-शासन का उद्देश्य है।  आज विभिन्न योजनाओं के तहत हितग्राहियों को सीधे उनके खाते में सहायता राशि मुहैया करायी जा रही है। प्रशासन को पारदर्शी और जवाबदेह बनाया गया है।इस अवसर पर जनपद पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती रूकमणी वर्मा, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती सविता चन्द्राकर, श्रीमती पुष्पा बंजारे, ग्राम पंचायत मांढर की सरपंच श्रीमती बबीता गणेशन मूर्ति, जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री हरिशंकर चौहान सहित अन्य अतिथिगण उपस्थित थे।

 

error: Content is protected !!