एनआईटी के छात्रों ने अपनी प्रतिभा से छत्तीसगढ़ को गौरवान्वित किया: डॉ. रमन सिंह

०० मुख्यमंत्री ने ग्लोबल एल्युमिनाई मीट-2017 को संबोधित किया

रायपुर| मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज यहां भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान और शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज के भूतपूर्व छात्रों के सम्मेलन कोसंबोधित करते हुए कहा कि इस संस्थान का गौरवशाली इतिहास है। यहां के छात्रों ने अपने ज्ञान, प्रतिभा और छत्तीसगढ़ की माटी से मिले संस्कारों से दुनिया में छत्तीसगढ़ और इस संस्थान का नाम रौशन किया है। एनआईटी परिसर में आयोजित ग्लोबल एल्युमिनाई मीट-2017 का आयोजन एल्युमिनाई एसोसिएशन द्वारा किया गया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर प्रकाशित स्मारिका का विमोचन किया।
विधानसभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह,छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम के अध्यक्ष श्री छगन मूंदड़ा , नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एडवांसड स्टडिज बैंगलोर के निदेशक पद्मश्री सम्मानित डॉ. बलदेव राज औरएनआईटी रायपुर के निदेशक प्रोफेसर डॉ. ए.एम. रवानी विशेष अतिथि के रूप में कार्यक्रम में उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने एल्युमिनाई एसोसिएशन के भवन गोल्डन टावर के निर्माण के लिए दस लाख रूपए की स्वीकृति की घोषणा की।
मुख्यमंत्री ने सम्मेलन में शामिल देश-विदेश से आए संस्थान के छात्रों का छत्तीसगढ़ में स्वागत करते हुए उनसे छत्तीसगढ़ के विकास में सक्रिय योगदान देने का आव्हान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ तेजी से बदल रहा है। बाहर से आने वाले छात्रों ने राजधानी रायपुर को देखकर इस बदलाव को महसूस किया होगा। उन्होंने कहा कि भिलाई और रायगढ़ जैसे शहरों के साथ-साथ बस्तर संभाग के दूरस्थ अंचलों के बीजापुर, दंतेवाड़ा, सुकमा जिलों में भी जाकर वहां विकास कार्यांे को देखा जा सकता है। दंतेवाड़ा में एजुकेशन हब एशिया के बेहतर शिक्षण संस्थानों में एक है। लगभग 16 हजार करोड़ रूपए की लागत से नगरनार में इस्पात संयंत्र बनकर तैयार हो रहा है। जल्द ही बस्तर और सरगुजा सहित छत्तीसगढ़ के सात शहर एयर कनेक्टिविटी से जुड़ जाएंगे। जगदलपुर रेल लाइन से जुड़ रहा है। मुख्यमंत्री ने नया रायपुर, जंगल सफारी, बाटनिकल गार्डन के भ्रमण का आमंत्रण सम्मेलन में शामिल छात्रों को दिया। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय रेटिंग संस्था क्रिसिल और भारतीय रिजर्व बैंक की रिपोर्टों का उल्लेख करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ आज वित्तीय प्रबंधन, सुशासन, मेन्युफेक्चरिंग, सेवा क्षेत्र और सामाजिक क्षेत्र में सर्वाधिक निवेश करने वाले देश के सर्वश्रेष्ठ राज्यों में पहले और दूसरे नंबर पर है। विधानसभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल ने अध्यक्षीय आसंदी से सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा छत्तीसगढ़ को विकास की ऊंचाईयों पर ले जाने के लिए आपका छत्तीसगढ़ में स्वागत है। आपके अनुभवों का लाभ छत्तीसगढ़ को भी मिलना चाहिए। इस संस्थान के छात्रों ने अपनी प्रतिभा से छत्तीसगढ़ का गौरव बढ़ाया है। लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह ने कहा कि देश और दुनिया के श्रेष्ठ संस्थानों में इस संस्थान के छात्र अपनी प्रतिभा से अपना प्रतिष्ठित स्थान बनाने में सफल हुए हैं। उन्होंने हाल ही में अपने भाभा एटामिक रिसर्च सेंटर के प्रवास का उल्लेख करते हुए कहा कि इस संस्थान में रायपुर एनआईटी से पास हुए  25 वैज्ञानिक कार्य कर रहे हैं। उन्होंने संस्थान के भूतपूर्व छात्रों के एसोसिएशन द्वारा समाजसेवा के किये जा रहे कार्यों की सराहना की। श्री सिंह ने कहा कि छात्रों का एसोसिएशन अपने अनुभवों से संस्थान के नए छात्रों को अपने क्षेत्र में बेहतर कार्य करने के लिए प्रेरित करें।डॉ. बलदेव राज ने कहा कि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान अच्छे संस्कारों के साथ इंजीनियरिंग के ऐसे छात्र तैयार कर रहा है जो तकनीकी के लिए समर्पित हैं। उन्होंने छत्तीसगढ़ को देश का सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाने के लिए छात्रों से सक्रिय सहयोग का आव्हान किया। मुख्यमंत्री ने इसके पहले संस्थान के भूतपूर्व छात्रों से बातचीत की और उन्हें छत्तीसगढ़ में उद्योग और सेवा के क्षेत्र में उपलब्ध अवसरों की जानकारी दी। इस अवसर पर बड़ी संख्या में संस्थान के भूतपूर्व छात्र उपस्थित थे।

 

error: Content is protected !!