सब इंस्पेक्टर ने लगाई फांसी, आरक्षक ने बचाई जान

०० 2 महीनों से अनुपस्थित रहने के कारण सब इंस्पेक्टर को नहीं मिला था वेतन

रायपुर| राजधानी के पंडरी थाने में पदस्थ एक प्रशिक्षु सब इंस्पेक्टर ने आत्महत्या करने की कोशिश की है।उसने आत्महत्या करने से पहले पंडरी थाना प्रभारी को फोन पर फांसी लगाने की सूचना दी। एसआई ने फोन पर कहा कि अब वो जिंदा नहीं रहना चाहता इसलिए अपनी मर्जी से फांसी के फंदे पर झूलकर आत्महत्या करने जा रहा हूं, यह सुनकर थाना प्रभारी कीरत राम सिन्हा के होश उड़ गए।

मिली जानकारी के अनुसार पंडरी थाने में पदस्थ 2011-12 बेच का एसआई अनुज इक्का पिछले 2 महीनों से अनुपस्थित रहने के कारण उसे वेतन नहीं मिला। इसके अलावा थाने में सही ढंग से ड्यूटी पर नहीं रहने पर टीआई पंडरी कीरत राम सिन्हा ने उसे कई बार फटकार भी लगाई। इन घटनाओं से आहत अनुज इक्का ने सुसाइड करने की कोशिश की। बताया जा रहा है कि वह आत्महत्या करने से पहले उसने थाना प्रभारी को फोन पर सुसाइड करने की बात बताई। उसने कहा कि अब वे जिंदा नहीं रहना चाहता। फोन पर प्रशिक्षु एसआई की एेसी बात सुनकर टीआई के पैरो तले जमीन ही खिसक गई। तत्काल सिपाही को उसके कमरे में भेजा। वहीं, वह आत्महत्या करने की तैयारी कर रहा था। मौके पर पहुंचे सिपाही ने उसे एेसा करने से रोक लिया। यह घटना बीते सोमवार की बताई जा रही है। ताया जा रहा है कि लंबे समय से थाना प्रभारी द्वारा कड़ी कार्रवाई की धमकी से नाराज होकर उसने एेसा करने की ठान ली थी। फिलहाल सही समय में पहुंच कर उसे सुसाइड करने से रोक लिया गया। इधर इस घटना के बाद पुलिस महकमा में हड़कंप मच गया। आलाधिकारियों ने मामले की गंभीरता से लिया है, घटना को लेकर अधिकारियों को लेकर एक भी बयान नहीं आया है फिलहाल इस घटना की अभी पुष्टि होना बाकी है ।

 

error: Content is protected !!