सत्तापक्ष और विपक्ष शीतकालीन सत्र में सीडी नहीं सीजी की करें बात

०० विधायक अमित जोगी, सियाराम कौशिक और आर.के. राय ने जारी की अपील 

०० जनता जानना चाहती है कि 84 हज़ार करोड़ के बजट से क्या कार्य हुए

०० सदन का समय और जनता का पैसा सीडी पर चर्चा करके खराब न करें 

रायपुर| प्रदेश के तीन विधायक अमित जोगी, सियाराम कौशिक और आर.के. राय ने भाजपा और कांग्रेस दोनों दलों के नेताओं से अपील की है कि विधानसभा के शीतकालीन सत्र में सीडी की चर्चा करने के बजाये छत्तीसगढ़ के हितों पर चर्चा करें।

संयुक्त रूप से जारी की गयी अपील में तीनों विधायकों ने कहा है कि कल से छत्तीसगढ़ विधानसभा का शीतकालीन सत्र आरंभ हो रहा है। हम  दोनों दलों के नेताओं से निवेदन करते हैं कि सदन में सीडी की नहीं बल्कि सीजी यानि छत्तीसगढ़ की बात करें। सीडी का मुद्दा उठाकर सदन का समय और जनता का पैसा व्यर्थ न करें। सीडी किसने बनाई, सीडी में मंत्री जी थे या नहीं, किस होटल में गए थे, किसके साथ थे, ऐसी बातों से छत्तीसगढ़ की आम जनता का कोई लेना देना नहीं है बल्कि जनता ये जानना चाहती है कि सरकार ने 84 हज़ार करोड़ के बजट से क्या काम किया है, कितनो को राहत पहुँचाई है।विधानसभा का सत्र, जनहित के मुद्दों और समस्याओं को उठाने का सत्र है। सीडी जैसे व्यर्थ के विषय उठाकर, जनता से जुड़े आवश्यक मुद्दों को दबाया नहीं जाना चाहिए। प्रदेश के विधायक अपने-अपने क्षेत्र की समस्याओं को उठाने सदन में आते हैं न की सीडी की चर्चा करने।इसलिए हम सदन के अपने सभी साथियों से एक बार फिर ये विनती करते हैं कि ‘सीडी नहीं सीजी की बात करें, आईये जनहित में हम काम करें।’

 

 

error: Content is protected !!