चेम्बर चुनाव में जातिवाद हावी नहीं, सारे प्रतिद्वदी कर रहे जीत का दावा 

रायपुर। चेम्बर ऑफ कामर्स के चुनाव के संबंध में आज प्रेसक्लब में तीनों पैनल के अध्यक्ष से आमने-सामने में चर्चा हुई। इस दौरान तीनों अध्यक्ष ने अपने-अपने चुनाव घोषणा पत्र वाचन किया, जिसमें प्रमुख रूप व्यापारी हित की बात, जीएसटी के सरलीकरण, आयकर संबंधी समस्याओं के निराकण की पहल आदि प्रमुख था।
व्यापारी प्रगति पैनल में विशेष रूप सें नया रायपुर में चेम्बर ऑफ कामर्स का नवीन कार्यालय बनाने और व्यापारी एकता पैनल की ओर से आयकर टैक्स लैब में कमी, सरलीकरण का प्रयास और एक ही प्रांगण में निर्माता वितरक और ग्राहकों के लिए प्रतिवर्ष भव्य व्यापार मेला का कार्यक्रम आयोजित करना है। व्यापारी विकास पैनल की ओर से प्रत्येक जिले में थोक बाजार बनाने और लीज पर दी गई भूमि को फ्री होल्र्ड करना प्रमुख था। जाति वाद के आधार पर चुनाव लडऩे के प्रश्र जवाब में व्यापारी एकता पैनल के प्रत्याशी जैन जितेन्द्र बरलोटा ने कहा कि, जैन समाज की ओर से आज तक कोई बैठक नहीं हुई है। उन्होंने जातिवाद के आधार पर चुनाव लडऩे से इंकार किया। जैन समाज के संख्या के बारे में कहा आंकड़े ज्ञात नहीं है। व्यापारी विकास पैनल के प्रत्याशी यू. एन अग्रवाल ने भी जातिवाद और समाज की बैठक से इंकार किया, लेकिन उन्होंने कहा कि, दो दिवस के भीतर समाज की बैठक हो सकती है। इससे इंकार नहीं किया जा सकता। व्यापारी प्रगति पैनल के प्रत्याशी अमर गिदवानी ने समाज की बैठक स्वीकार किया, लेकिन जातिगत मतदान का खंडन किया। निकटतम प्रतिद्वदी कौन है के सवाल पर सब ने स्वंय को श्रेष्ठ बताया और वियज होने का दावा किया।

error: Content is protected !!