गरियाबंद एवं धमतरी जिला के 79 हजार से अधिक तेंदूपत्ता संग्राहकों को होगा 24 करोड़ 25 लाख रूपये का बोनस वितरण

०० 6 दिसम्बर को मैनपुर में होगा तेंदूपत्ता बोनस तिहार

गरियाबंद| जिले में तेंदूपत्ता बोनस तिहार 6 दिसम्बर को मैनपुर में आयेाजित किया जायेगा, जहां पर गरियाबंद एवं धमतरी जिले के 79 हजार से अधिक तेंदूपत्ता संग्राहकों को 24 करोड़ 25 लाख 77 हजार रूपये का तेंदूपत्ता बोनस ऑनलाईन वितरित किया जायेगा। गरियाबंद जिले के 70 प्राथमिक लघु वनोपज सहकारी समितियों के 56 हजार 416 संग्राहकों को 19 करोड़ 10 लाख 82 हजार रूपये और वन मण्डल धमतरी के 26 लघु वनोपज सहकारी समितियों के 22 हजार 678 संग्राहकों को 5 करोड़ 14 लाख 95 हजार रूपये का बोनस वितरण किया जायेगा। गौरतलब है कि राज्य शासन द्वारा तेंदूपत्ता पारिश्रमिक दर में 1800 रूपये प्रति मानक बोरा से बढ़ाकर आगामी वर्ष से 2500 रूपये प्रति मानक बोरा कर दिया गया है, जिससे संग्राहकों को फायदा मिलेगा।
उल्लेखनीय है कि गरियाबंद जिले में वर्ष 2003 से लेकर अब तक 12 लाख 44 हजार 230 मानक बोरा तेंदूपत्ता की खरीदी की गई, जिसके एवज में संग्राहकों को एक अरब 5 करोड़ 65 लाख रूपये का भुगतान किया गया है। राज्य शासन द्वारा संग्राहकों को बोनस राशि का वितरण भी किया जा रहा है, वर्ष 2003 से लेकर अब तक एक अरब 6 करोड़ 47 लाख रूपये का बोनस वितरण किया जा चुका है। मैनपुर में आयोजित बोनस तिहार में गरियाबंद एवं धमतरी जिला के तेन्दूपत्ता संग्रहकों को बोनस का ऑनलाईन वितरण किया जायेगा। राज्य शासन द्वारा तेन्दूपत्ता संग्राहकों को पारिश्रमिक एवं बोनस के अलावा चरण पादुका भी प्रदाय किया जाता है। गरियाबंद जिले में वर्ष 2012 से लेकर अब तक 2 लाख 52 हजार से अधिक सदस्यों कों चरण पादुका का वितरण किया गया है। तेंदूपत्ता संग्राहकों के मेधावी बच्चों को वन विभाग द्वारा छात्रवृत्ति भी प्रदान की जा रही है। जिले में वर्ष 2013-14 से लेकर अब तक 325 छात्र-छात्राओं को 8 लाख 9 हजार रूपये की छात्रवृत्ति प्रदान की गई है। प्रतिभाशाली 93 छात्र-छात्राओं को 19 लाख 45 हजार रूपये की छात्रवृत्ति प्रदाय किया गया है।

 

 

error: Content is protected !!