रेत माफियाओ ने एनिकट से छोड़ा पानी, अरपा पुल निर्माण में लगे मशीन सहित लाखो सामग्री डूबी

०० अवैध रेत निकासी को लेकर माफियाओ ने एनिकट से जबरन छोड़ा पानी, शासन को हुआ लाखो का नुकसान

०० अरपा पुल पर बन रहे नए पुल के निर्माण में लगे मशीन सहित निर्माण सामग्री पानी में डूबे

बिलासपुर| जिले की जीवनदायनी नदी अरपा पर करोडो की राशि से निर्माणाधीन पुल के कार्य में रेत माफिया ने पानी फेर दिया है, नदी से अवैध रेत निकासी के चलते माफियाओं ने सेंदरी स्थित बैराज का पानी छोड़ दिया जिसके बाद निर्माण स्थल में लगे मशीनों सहित पुल के लिए किये गहरे गड्डो में पानी भर गया| करोडो की लागत से निर्मित इस पुल के लिए वर्तमान में पायलिंग का काम चल रहा था साथ ही कई गड्डो में छड व सीमेंट भी भरा गया था जो इस छोड़े गए पानी में पूरी तरह से डूब गया है| खनिज विभाग के संरक्षण में रेत माफियाओ के हौसले बुलंद है जिसके चलते रेत माफियाओ ने एनिकट से जबरन पानी छोड़ा व शासन को लाखो का नुकसान पंहुचा दिया|

नगर के अरपा नदी पर जीर्ण हो चुके पुराने पुल के पास ही करोडो की लागत से शासन द्वारा नए पुल का निर्माण कराया जा रहा है, इस पुल निर्माण के लिए ठेकेदार अशोक मित्तल ने करोडो की राशि से पुल निर्माण का ठेका लिया है| वर्त्तमान में इस पुल के पिल्लर का निर्माण कार्य चल रहा है जिसमे तक़रीबन 10-12 गड्डे भारी मशीनों की मदद से किया जा रहा है कुछ गड्डो में छड व सीमेंट भी भरकर पिल्लर खड़ा किया जा रहा है वही कुछ गड्डे जो तक़रीबन 10 फीट तक गहरे किये गए है वह खाली थे| रेत माफियाओ द्वारा सेंदरी एनिकट में भरे लबालब पानी को महज अवैध रेत निकासी के चलते छोड़ दिया गया जिसका पानी भारी मात्रा में नवनिर्मित पुल में लगे मशीनों व निर्माण सामग्री को अपनी चपेट में ले लिया| मशीने व निर्माण सामग्री इस पानी में पूरी तरह से डूब गया जिसके चलते पुल निर्माणकर्ता ठेकेदार को लाखो का नुकसान हो गया, रेत माफियाओं द्वारा रेत निकासी के लिए एनिकट का पानी जबरन छोड़ा गया क्योकि एनिकट में पानी रोके जाने की वजह से नदी का जल स्तर बढ़ा हुआ था व नदी से रेत निकासी नहीं हो पा रही थी| रेत माफियाओ के छोड़े गए पानी की वजह से शासन को लाखो का नुकसान हो गया है, रेत माफियाओं के हौसले खनिज विभाग के अधिकारियो के संरक्षण में लगातार बुलंद होते जा रहे है जिसका प्रमाण इस घटना ने दिया है|

रेत माफिया है खनिज विभाग पर भारी :- जिले में रेत माफिया खुलेआम शासन के नियमो को ठेंगा दीखते हुए अवैध रेत निकासी कर रहे है रेत, कोयला, मुरुम, गिट्टी सहित अन्य खनिज संसाधनों का खनिज माफियाओ द्वारा जमकर दोहन किया जा रहा है, खनिज माफिया रोजाना लाखो-करोडो के खनिज संसाधनों को बेधडक उत्खनन व परिवहन में जुटे हुए है| खनिज संसाधनों के अवैध उत्खनन – परिवहन की जानकारी जिले के आम लोगो के साथ साथ खनिज विभाग के जिम्मेदार अधिकारियो को भी है मगर जिला खनिज अधिकारी आर. मालवे के खौफ के चलते इन खनिज माफियाओ पर शिकंजा कसने से वे भी खौफजदा है क्योकि इन खनिज माफियाओ पर जिला खनिज अधिकारी आर मालवे का संरक्षण प्राप्त है, अगर कोई विभाग का अधिकारी किसी अवैध उत्खनन या परिवहन कर रहे खनिज माफिया पर कार्यवाही भी कर देता है तो तत्काल जिले के खनिज अधिकारी आर मालवे का फोन उक्त अधिकारी को घनघना जाता है और उसे मज़बूरी वश कार्यवाही को स्थगित करना पड़ता है|

error: Content is protected !!