खनिज विभाग में चलता है जिला खनिज अधिकारी मालवे का एकाधिकार

०० विभाग के अन्य अधिकारियो की कार्यवाही पर मालवे ने लगाया विराम

०० जिले के खनिज माफियाओं से है खनिज अधिकारी मालवे के गहरे ताल्लुकात

बिलासपुर| ऐसे तो जिले में खनिज विभाग के संरक्षण में खनिज माफियाओ की बल्ले-बल्ले है क्योकि यहाँ जिला खनिज अधिकारी मालवे के संरक्षण में खनिज माफिया बेधक होकर धरती का सीना चीर खनिज संपदाओ का दोहन कर चांदी काट रहे है, अगर विभाग का कोई जिम्मेदार अधिकारी खनिज माफियाओ आर शिकंजा कसने की कोशिश करता है तो तत्काल जिला खनिज अधिकारी मालवे उसकी जिम्मेदारी पर भारी पड़ चुप्पी साधने मजबूर कर देते है, जिसके चलते जिले के खनिज माफिया के हौसले दिन-ब-दिन बुलंद होते जा रहे है व धडल्ले से खनिज संसाधनो का जमकर दोहन करने में जुटे हुए है|

जिले में इन दिनों रेत, कोयला, मुरुम, गिट्टी सहित अन्य खनिज संसाधनों का खनिज माफियाओ द्वारा जमकर दोहन किया जा रहा है, खनिज माफिया रोजाना लाखो-करोडो के खनिज संसाधनों को बेधडक उत्खनन व परिवहन में जुटे हुए है| खनिज संसाधनों के अवैध उत्खनन – परिवहन की जानकारी जिले के आम लोगो के साथ साथ खनिज विभाग के जिम्मेदार अधिकारियो को भी है मगर जिला खनिज अधिकारी आर. मालवे के खौफ के चलते इन खनिज माफियाओ पर शिकंजा कसने से वे भी खौफजदा है क्योकि इन खनिज माफियाओ पर जिला खनिज अधिकारी आर मालवे का संरक्षण प्राप्त है, अगर कोई विभाग का अधिकारी किसी अवैध उत्खनन या परिवहन कर रहे खनिज माफिया पर कार्यवाही भी कर देता है तो तत्काल जिले के खनिज अधिकारी आर मालवे का फोन उक्त अधिकारी को घनघना जाता है और उसे मज़बूरी वश कार्यवाही को स्थगित करना पड़ता है| विभागीय सूत्रों की आने तो जिला खनिज अधिकारी की जिले में पदस्थापना के बाद से ही खनिज माफियाओ द्वारा जमकर अवैध खनिज उत्खनन व परिवहन व्यापक पैमाने पर किया जा रहा है जिसके एवज में जिला खनिज अधिकारी को हर माह लाखो की भेट भी इन माफियाओ द्वारा चढ़ायी जाती है साथ ही उनको खुश करने तरह तरह के लक्सरी सामानों की भेट भी दी जाती है, जिसके चलते इन लोगो पर विभागीय कार्यवाही नहीं होती| यदाकदा विभाग की मिट्टी पलित होने से बचने के लिए अवैध परिवहनकर्ताओ पर महज दिखावे के लिए मामूली कार्यवाही कर विभागीय खानापूर्ति की जाती है|जिला खनिज अधिकारी आर मालवे के संरक्षण में खनिज माफियाओ द्वारा जमकर खनिज संसाधनों के अवैध उत्खनन – परिवहन किया जा रहा है मगर शासन-प्रशासन के जिम्मेदार उच्च पदस्थ अधिकारियो द्वारा कार्यवाही नहीं किया जाना इस अधिकारी के उच्च राजनैतिक संरक्षण को परिभाषित कर रहा है|

एसीसी सीमेंट के रेस्ट हाउस से चलता है मालवे का खनिज महकमा :- जिला खनिज अधिकारी आर मालवे जब से जिले की कमान संभाले है तभी से नगर के नर्मदा नगर स्थित एसीसी सीमेंट के रेस्ट हाउस पर अपना कब्ज़ा जमाये हुए है| खनिज अधिकारी आर मालवे यही से अपना पूरा खनिज महकमा सँभालते है, यहाँ सुबह से ही खनिज माफियाओ की लाइन लगी होती है साथ ही इसी रेस्ट हाउस से लाखो-करोडो का लेनदेन भी किया जाता है| इस रेस्ट हाउस में जिले के रेत, मुरुम, कोयला, गिट्टी सहित अन्य खनिज संसाधनों के खनिज माफियाओ को देखा जाता है जो अपने अवैध कार्यो का हिस्सा देने खनिज अधिकारी आर मालवे से आकर यहाँ मिलते है|

error: Content is protected !!