प्रदेश में सूखा है, किसान आत्महत्या कर रहे है प्रदेश के मुखिया मंहगी जापानी गाड़ी खरीद रहे है : कांग्रेस

रायपुर| मुख्यमंत्री रमन सिंह के काफिले के लिये लिया गया 16 जापानी गाड़ी पजेरो की खरीदी को फिजूलखिर्ची और औचित्य हीन करार देते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि  जहां पर एक ओर प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया की बात करते है, स्वदेशी वस्तुओ अपनाने को जनता को भाषण देते है, वहीं उन्हीं की पार्टी के मुख्यमंत्री ”मेक इन जापान“ की मांहगी गाड़ियो की खरीदी की है। एक गाड़ी का मूल्य लगभग 60 लाख रूपय का है, ऐसी कुल 16 गाड़ियो की खरीदी के लिये सरकार ने व्यर्थ में करोड़ो रूपया फंूक दिया।
प्रवक्ता विकास तिवारी ने बताया कि सूत्रो से प्राप्त जानकारी के आधार पर मुख्यमंत्री ने 0004 नंबर की गाड़ी किन्ही तांत्रिक के कहने पर खरीदी की है, ताकि वो 218 का चुनाव इन्ही 0004 नंबर के टोटके में जीत सके इसमें पूर्ण राजधानी के नेकी की दीवार में अपना शनिग्रह ठीक करने के लिये अपना काला जूता छोड़ दिया। मुख्यमंत्री घबराये हुये है, 2018 के चुनाव की हार के कारण और वह अपनी सत्ता बचाने के लिये बाबाओं और तांत्रिको के चक्कर काट रहे है।प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि जहां एक ओर प्रदेश के किसान सूखा से चिंतित है, युवाओं के पास रोजगार नही है, जीएसटी से व्यापारी जन हलाकान है, नोटबंदी की मार आज तक प्रदेश के लोग भूगत रहे है और मनरेगा में मजदूरों का करोड़ो रूपये का भुगतान रूका हुआ है।वहीं दूसरी ओर सरकार के मुखिया “मेक इन जापान” से निर्मित लगभग 60 लाख की 16 गाड़ियो का काफिला अपने सुख-सुविधाओ को ध्यान में रखते हुये लिया है। सूत्रो से जानकारी मिली है कि प्रदेश सरकार के पास अपने कर्मचारियों के देने के लिये वेेतन नही है, सरकार की तिजोंरिया खाली पड़ी है, वहीं प्रदेश के मुखिया जनता की गाढ़ी कमाई से मंहगी गाड़ियो का काफिला खरीद रहे है।

 

 

error: Content is protected !!