कलेक्टर अचानक पहुंचे उपस्वास्थ्य केन्द्र तोजी और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कुंवारपुर

 

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कुंवारपुर हेतु स्वीकृत 10 सीटर नवीन भवन का निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं होने पर बिफरे कलेक्टर

चंद्रकांत गढ़वाल (कोरिया) कलेक्टर नरेन्द्र कुमार दुग्गा अचानक जिले के विकासखंड भरतपुर के दूरस्थ वनांचल के ग्राम तोजी स्थित उपस्वास्थ्य केंद्र और ग्राम कुंवारपुर स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। उन्होने उपस्वास्थ्य केंद्र तोजी के बहुउद्देषीय स्वास्थ्यकर्ता श्रीमती अगरबत्ती खलखो तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कुंवारपुर के आरएमए अनिल कुमार मिश्रा और बीएमएस प्रभाकर तिवारी से संस्थागत प्रसव, दवाईयों की उपलब्धता एवं वितरण, प्रसव कक्ष, एमपीडब्ल्यु का दौरा कार्यक्रम, ओपीडी की स्थिति, दवाई भण्डार कक्ष, वितरण कक्ष, शौचालय, टीकाकरण कक्ष, पेयजल की उपलब्धता, भोजन कक्ष आदि की जानकारी प्राप्त की। कलेक्टर दुग्गा ने कहा कि स्वास्थ्य केंद्रों में इलाज हेतु दूर दराज से मरीज आते है। उनकी देखभाल की समुचित व्यवस्था स्वास्थ्य केंद्रों में तैनात चिकित्सकों की होती है। उन्होने कहा कि स्वास्थ्य केंद्रों में इलाज हेतु पहुंचने वाले मरीजों को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए। उन्हें समय पर चिकित्सकीय सुविधा, दवाईयां आदि मिलनी चाहिए। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षमा नहीं होगी और संबंधितों के विरूध्द कडी से कडी कार्यवाही की जायेगी। कलेक्टर दुग्गा ने कहा कि प्रसव पश्चात महिलाओं को 48 घंटे स्वास्थ्य केंद्रों में रखकर उन्हें भोजन, चिकित्सा, दवाई के लिए प्रतिमहिला को 160 रूपये दिये जाने का प्रावधान है। उन्होने प्रसव पश्चात महिलाओं को 48 घंटे स्वास्थ्य केंद्रों में रोककर उन्हें भोजन, चिकित्सा, दवाई के लिए प्रतिमहिला को 160 रूपये देने के निर्देश दिये। तत्पष्चात कलेक्टर दुग्गा ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कुंवारपुर हेतु स्वीकृत 10 सीटर नवीन भवन के निर्माण कार्य के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होने कहा कि जिला खनिज संस्थान न्यास के तहत 10 सीटर नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भवन की स्वीकृति प्रदान की गई है। उन्होेने निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं होने पर ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के अधिकारियों प्रति अपनी गहरी नाराजगी व्यक्त की और निर्माण कार्य यथाशिघ्र प्रारंभ करने के निर्देश दिये। तत्पष्चात उन्होने बहुउद्देषीय स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की बैठक में शामिल हुए और उन्होने उनके सेंटर में संस्थागत प्रसव को बढावा देने के लिए किये जा रहे प्रयास के साथ साथ स्वास्थ्य केंद्रों की साज सज्जा की भी जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर भरतपुर अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व रवि राही, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता विजय मिंज, कृषि विभाग के उपसंचालक डी.के.रामटेके सहित हिरालाल एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

error: Content is protected !!