फायनेस कंपनी के कर्मचारी से लूटपाट के आरोपी गिरफ्तार

संजय बंजारे

करगी रोड कोटा| कोटा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले भारत फाइनेंसियल इंप्लाइज प्राइवेट लिमिटेड कंपनी जिसकी शाखा कोटा में स्थित है जिससे कि यह कंपनी महिला समूह से लेनदेन व रकम की वसूली का कार्य करता है कोटा क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में रकम वसूली कर वापस आ रहे थे की ग्राम  झिंगाटपुर एवं श्रीपारा के बीच सुनसान जगह पर अज्ञात तीन आरोपियों द्वारा दिन सोमवार अक्टूबर माह में प्रार्थी गणेश चंद्रा से तीन आरोपियों के द्वारा पल्सर  वाहन में उनका पीछा कर मौका पाकर उनकी आंखों में मिर्ची पाउडर छिड़क कर उन फाइनेंस कंपनी में काम कर रहे गणेश चंद्रा पिता दशरथ चंद्रा उम्र 21 वर्ष निवासी बरदुली थाना जैजैपुर जिला जांजगीर-चांपा का है जिससे कि आरोपी ने नगदी एक लाख साठ हजार रुपए एवं सैमसंग टेबलेट लूटकर ले गए थे जिसमें आरोपियों से 83000 रुपए बरामद कर लिया गया है जो कि प्रार्थी गणेश चंद्र की रिपोर्ट पर कोटा थाना में अज्ञात आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया गया था जिससे कि अपराध क्रमांक 308/17 धारा 392,34 भादवी कायम कर विवेचना कर कार्यवाही कोटा पुलिस की टीम के द्वारा किया जा रहा था इस घटना को कोटा पुलिस की टीम ने गंभीरता से लेते हुए उक्त प्रकरण के घटित होने के उपरांत क्षेत्र में भय का वातावरण निर्मित हो गया था इस घटना को अज्ञात आरोपियों के द्वारा की गई थी इस घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय बिलासपुर श्री मयंक श्रीवास्तव एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्रीमती अर्चना झा के द्वारा इस मामले की विवेचना को गंभीरता से करने एवं अज्ञात आरोपियों कि इस संबंध में पतसंजी हेतु एसडीओपी कोटा श्री विश्व दीपक त्रिपाठी को निर्देशित किया गया तो उन के मार्गदर्शन में घटनास्थल पर लगातार भ्रमण किया जा रहा था|
कोटा थाना प्रभारी कृष्णकांत सिंह को आरोपियों का हुलिया अनुरूप तलाश किया गया एवम प्रार्थी एवं कोटा पुलिस की टीम इस मामले में तत्परता से सहयोग मिला इसका परिणाम स्वरुप दिनांक 23 11 2017 को पुनः उक्त गिरोहों के द्वारा ग्राम साल्का के पास सुरेश टंडन के साथ लूट का प्रयास किया गया लेकिन असफल रहे मौके पर वहां के ग्रामीणों द्वारा आरोपी इमरान खान एवं अभिषेक उर्फ पुनु को उनके स्कूटी के साथ मौके पर ही कोटा पुलिस के द्वारा धरदबोचा लिया गया पुलिस को घटना की सूचना पर तत्परता दिखाई और घेराबंदी कर तीसरा आरोपी अंकित उर्फ छोटू को भी पकड़ लिया गया कोटा पुलिस की विवेचना पर आरोपी इमरान खान ही मास्टरमाइंड निकला तथा पूछताछ के दौरान वह पुलिस को काफी गुमराह करता रहा आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ की गई तो वह टूट गया और पूरी घटना की जानकारी इमरान खान के द्वारा बताया गया और उक्त घटना में मिर्ची डालकर लूटने की बात को स्वीकार किया गया और अपने अन्य साथी पुनु उर्फ बृजेश कुर्रे एवं राहुल यादव खमतराई निवासी के साथ घटना में शामिल होना बताया लूट के पैसे से उन आरोपी के द्वारा सीडी डीलक्स एवं सीबीजेड टू व्हीलर गाड़ी खरीदा गया आरोपियों के द्वारा इस्तेमाल की गई और अन्य गाड़ी को पुलिस ने जप्त कर लिया है घटना को अंजाम देने के लिए चार मोटरसाइकिल का उपयोग किया गया जिसमें स्कूटी एवं Pulsar गाड़ी का प्रयोग किया गया| लूट में गिरफ्तार हुए आरोपियों सभी बिलासपुर के रहने वाले हैं जिनका नाम 1 सोनू उर्फ इमरान खान पिता हिदायत उल्लाह उम्र 25 वर्ष, छोटू उर्फ अंकित ध्रुव पिता उमेंद्र  उम्र 24 वर्ष, पंकज उर्फ पुन्नू बृजेश कुर्रे पिता रवि शंकर कुर्रे उम्र 28 वर्ष, राहुल यादव पिता तिहारु यादव उम्र 20 वर्ष, सानू उर्फ अभिषेक लाल पिता सुंदर लाल उम्र 25 वर्षइन पांचों आरोपियों को कोटा पुलिस के द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है लेकिन लूट में शामिल एक और आरोपी जिनका नाम अकाश बघेल पिता सुरज बघेल उम्र 28 वर्ष अभी पुलिस की गिरफ्त से फरार है उक्त प्रकरण में एसडीओपी विश्व दीपक त्रिपाठी थाना प्रभारी कृष्णकांत सिंह उपनिरीक्षक योगेश शर्मा सहायक उपनिरीक्षक अशोक शर्मा तथा भोप सिंह तोमर सिंह भालेस्वर तिवारी संदीप जांगड़े संतोष श्रीवास ने भी लूट के आरोपी को पकड़ने में अपना योगदान दिया है

 

 

error: Content is protected !!