किसानों की मेहनत का वाजिब दाम मिलेगा: धरमलाल कौशिक

०० ग्राम पौसरी में हुआ धान खरीदी का शुभारंभ

बिलासपुर| बिल्हा विकासखण्ड के सेवा सहकारी समिति दगौरी अंतर्गत ग्राम पौंसरी में आज समर्थन मूल्य पर धान खरीदी का शुभारंभ पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक ने किया। जिले में 130 खरीदी केन्द्रों के माध्यम से 31 जनवरी 2018 तक किसानों से धान खरीदी की जायेगी।
इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री धरमलाल कौशिक ने कहा कि धान खरीदी की यह व्यवस्था पूरे हिन्दुस्तान मंे केवल छत्तीसगढ़ में है। किसानों को शोषण से बचाने और उनके मेहनत का वाजिब दाम देने के लिए सरकार उनका धान खरीद रही है। किसानों की शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण प्रदान किया जाता है। प्रदेश के साथ-साथ क्षेत्र में अकाल की स्थिति है। जो किसान प्रति एकड़ 15 क्विंटल धान बेचेगे, उसे 300 रूपये प्रति क्विंटल का बोनस भी मिलेगा। दूसरी स्थिति में जहां कम वर्षा से फसल प्रभावित हुई है, वहां के किसानों को क्षतिपूर्ति के साथ-साथ फसल बीमा का लाभ मिलेगा। इसलिए किसानों को चिन्ता करने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ से प्रेरणा लेकर उत्तर प्रदेश में किसानों का गेहूं समर्थन मूल्य में खरीदा गया है। देश के अन्य राज्यों को भी छत्तीसगढ़ से मार्गदर्शन मिल रहा है।  कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए गृह निर्माण मण्डल के अध्यक्ष श्री भूपेन्द्र सवन्नी ने कहा कि विगत् 15 वर्ष से प्रदेश में धान खरीदी हो रही है। वर्ष 2003 में 7 लाख मेट्रिक टन धान किसानों से खरीदा गया था। वर्ष 2017 में 70 लाख मेट्रिक टन धान खरीदी का अनुमान है। छत्तीसगढ़ में कृषि के लिए बहुत सारी सुविधाएं दी गई हैं। जिसके चलते फसल उत्पादन में वृद्धि हो रही है। किसानों के पास आज 4 लाख 13 हजार पंप कनेक्शन है।कलेक्टर श्री पी. दयानंद ने इस वर्ष की धान खरीदी प्रक्रिया की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि किसान को तीन बार अपना धान बेचने की सुविधा दी गई है। टेबलेट के माध्यम से धान परिवहन करने वाले वाहनों का फोटो खींचा जायेगा। जिसकी जानकारी रखी जायेगी। उन्होंने कहा कि नजरी अनावारी व वास्तविक फसल कटाई प्रयोग के हिसाब से किसान अपने धान को समितियों में बेचने लाएं। दूसरों की ऋण पुस्तिका से धान बेचने पर अपराधिक प्रकरण दर्ज होगा।लघु कृषक श्री कामता प्रसाद साहू से धान खरीदी कर इस वर्ष के धान खरीदी कार्यक्रम का शुभारंभ जिले में किया गया। श्री साहू के पास ढाई एकड़ खेत है। जिसमें उसे 65 बोरी धान का उत्पादन प्राप्त हुआ है। उसने धान खरीदी के लिए की गई टोकन व्यवस्था को सराहा कि इस व्यवस्था से किसानों को बहुत सहुलियत होगी। उक्त कार्यक्रम में बिल्हा के एसडीएम श्री विरेन्द्र लकड़ा, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के सीईओ श्री अभिषेक तिवारी, जिला खाद्य नियंत्रक श्री पटेल, मार्कफेड के अधिकारी श्री जोशी, सेवा सहकारी समिति दगौरी के अध्यक्ष श्यामता प्रसाद कौशिक सहित ग्राम के सरपंच, अन्य जनप्रतिनिधि, क्षेत्र के किसान उपस्थित थे।

 

error: Content is protected !!