जनता कांग्रेस नेता मणिशंकर पाण्डेय को पुलिस ने लिया हिरासत में,चार घटे बाद छोड़ा

बिलासपुर| सरकंडा पुलिस ने जनता कांग्रेस नेता और पार्टी के पूर्व प्रवक्ता मणिशंकर पाण्डेय को हिरासत में लिया है करीब चार बजे सरकंडा पुलिस ने मणिशंकर पाण्डेय को थाने में बैठाकर रखा,जरूरी पूछताछ के बाद तीन घंटे बाद शाम सरकंडा पुलिस ने छोड़ भी दिया है। थाना प्रभारी अनिल तिवारी ने बताया कि ऊपर से जानकारी मिली थी कि पाण्डेय की जमानत निरस्त हो गयी है। इसलिए मणिशंकर को थाना बुलाया गया था। जरूरी जानकारी और दस्तावेज पेश किये जाने के बाद देर शाम छोड़ भी दिया गया है।

मालूम हो कि कुछ महीने पहले मणिशंकर पाण्डेय पर धमकी देकर रूपए लेने का आरोप का मामला दर्ज हुआ था। वसंत शर्मा की शिकायत पर मणिशंकर पाण्डेय की गिरफ्तारी हुई थी। मामले में मणिशंकर को हाईकोर्ट से जमानत मिलने पर छोड़ा गया। जानकारी के अनुसार जनता कांग्रेस नेता मणिशंकर पर 420, 467, 468,471 और 193 का मामला दर्ज है।थाना प्रभारी अनिल तिवारी ने बताया कि पाण्डेय की जमानत मामले को लेकर पुलिस को जरूरी दस्तावेजों की जानकारी चाहिए थी। इसलिए पाण्डेय को थाना बुलाया गया ।  ऊपर से निर्देश था कि मणिशंकर की जमानत से जुड़े दस्तावेजों और जानकारियों को भेजा जाए।इधर मणिशंकर पाण्डेय ने बताया कि मैं हाईकोर्ट से जमानत पर हूं। सारी जानकारी थाने में दर्ज है। जरूरी दस्तावेजों को पहले से ही जमा किया जा चुका है। केवल परेशान करने के लिए बुलाया गया था। सब कुछ बड़े पुलिस अधिकारियों के इशारे पर हो रहा है। मुझे जानबूझकर प्रताड़ित किया जा रहा है। लेकिन मैं डरने वाला नहीं हूं। भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ता रहूंगा।

हाईकोर्ट ने जारी किया एसीबी के एडीजी मुकेश गुप्ता को नोटिस:-  डीएलएस कांलेज के संचालक कांग्रेस नेता बंसत शर्मा के द्वारा सामाजिक कार्यकर्ता मनीशंकर पान्डेय के मामले मे न्यायालय मे दिया गया झूठा और मनगढ़ंत आवेदन और समर्थन मे दिया झूठा शपथपत्र को लेकर लेकर सामाजिक कार्यकर्ता ने माननीय उच्च न्यायालय मे क्रिमिनल रीट पिटीशन फाईल किया था जिस पर सुनवाई करते हुए माननीय न्यायालय ने स्वयं मुकेश गुप्ता एडीजी एसीबी को पक्षकार बनाने कहा गया जिस पर अमल करते हुऐ मेरे द्वारा पक्षकार बनाने आव़ेदन लगाया गया  जिसे माननीय न्यायालय ने स्वीकार करते हुऐ एसीबी के एडीजी मुकेश गुप्ता  छत्तीसगढ़ शासन और न्यायालय मे झूठा आवेदन व शपथपत्र देने वाले डी एल एस कांलेज के संचालक बंसत शर्मा को पार्टी बनाने के आदेश के साथ नोटिस जारी करने का भी आदेश दिया है।

आज शाम4 बजे सामाजिक कार्यकर्ता एवं जनता कांग्रेस के नेता को सरकंडा थाना प्रभारी अनिल तिवारी द्वारा रजिस्टी आफिस के सामने से यह कहते हुए ले गये की आपको माननीय उच्च न्यायालय से मिला स्टे खत्म हो चुका है आपने अभी तक जमानत याचिका नहीं लगाया है इसलिए आपको गिरफ्तार किया जाता है साथ ही उनके द्वारा यह भी कहा गया कि यह ऊपर से आदेश है आपको गिरफ्तार करने का अब आप अपने अधिवक्ता को बुला लीजिए और जाईए हमारे खिलाफ कोर्ट की अवहेलना की कार्यवाही कर दिजिये हम नहीं छोडेंगे जब ।इस प्रकार मुझे6.30तक बैठाकर कर रखा गया जब मेरे अधिवक्ता गण थाना पहूचे और उन्हे बताया गया की स्टे जारी है आप गलत तरीके से लेकर आये हैं यह कोर्ट की अवहेलना हैं तो कहने लगे यह ऊपर का आदेश था हम मजबूर हैं फीर किसी से फोन पर चर्चा करने के पश्चात जाने को कहा गया ।इस तरह आज मुझे गलत तरीके से थाना प्रभारी द्वारा गिरफ्तारी का भय दिखाकर दो से ढाई घंटे बेवजह बैठाकर रखा गया|

मनीशंकर पान्डेय, सामाजिक कार्यकर्ता

 

error: Content is protected !!