हमर छत्तीसगढ़ योजना : तीन जिलों के 558 पंच-सरपंचों ने की मुख्यमंत्री डॉ. सिंह से मुलाकात

रायपुर| मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से यहां उनके निवास परिसर में हमर छत्तीसगढ़ योजना के तहत राजधानी रायपुर के भ्रमण पर पहुंचे तीन जिलों के 58 ग्राम पंचायतों से 558 पंचायत प्रतिनिधियों ने मुलाकात की। इनमें रायगढ़, कोरबा और कोरिया जिले के पंचायत प्रतिनिधि शामिल थे।
मुख्यमंत्री ने सभी पंचायत प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए राजधानी भ्रमण में उनके अनुभवों की जानकारी ली। उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों को यहां हो रहे बड़े-बड़े विकास कार्याें को देखकर प्राप्त अनुभवों से नई सीख लेकर अपने-अपने गांव का और बेहतर ढंग से विकास करने के लिए कहा। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने बताया कि गांवों के विकास के लिए सरकार द्वारा अनेक कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इनका भरपूर लाभ उठाएं और अपने गांव को एक आदर्श और समृद्ध गांव के रूप में पहचान दिलाएं। साथ ही इन्हें गांव-गांव में अधिक से अधिक वृक्षारोपण और जल संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए भी विशेष जोर दिया। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कई महत्वपूर्ण कार्यक्रमों भारत नेट परियोजना, स्वच्छ भारत अभियान, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, मुख्यमंत्री खाद्यान्न सुरक्षा योजना, मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा आदि योजनाओं के बारे में पंचायत प्रतिनिधियों को जानकारी दी और इनका क्षेत्र में बेहतर क्रियान्वयन के लिए कहा।
इस दौरान मुख्यमंत्री के समक्ष पंचायत प्रतिनिधियों ने भी अपने राजधानी भ्रमण के अनुभवों को साझा किया। इनमें जनपद पंचायत रायगढ़ के ग्राम पंचायत जुर्डा के सरपंच श्री जयंत किशोर प्रधान ने बताया कि भारत नेट परियोजना के तहत जुर्डा ग्राम को दिसम्बर माह तक पूर्णतः डिजिटल गांव के रूप में विकसित कर लिया जाएगा। इससे जिला मुख्यालय रायगढ़ से सात किलोमीटर दूर स्थित ग्राम जुर्डा के डिजिटल गांव होने पर वहां के विकास कार्याें और हर निवासी के बारे में शीघ्रता से ऑन लाइन जानकारी मिल जाएगी। मुख्यमंत्री ने इसके लिए सरपंच श्री प्रधान को बधाई और शुभकामनाएं दी। भ्रमण दल में रायगढ़ जिले के अंतर्गत पुसौर, बरमकेला तथा रायगढ़ जनपद पंचायत के 27 ग्राम पंचायतों से 286 पंचायत प्रतिनिधि शामिल थे। इसी तरह कोरिया जिले के अंतर्गत मनेन्द्रगढ़ जनपद पंचायत से 19 ग्राम पंचायतों के 168 पंचायत प्रतिनिधि और कोरबा जिले के अंतर्गत कोरबा जनपद पंचायत के 12 ग्राम पंचायतों से 104 शामिल थे।

 

error: Content is protected !!