घोंघा जलाशय कोटा में मनाया गया सांस्कृतिक धरोहर के रूप में आवला नवमी

०० घोंघा जलाशय में आंवला नवमी मनाने उमड़ी भारी संख्या में भीड़

संजय  बंजारे

करगी रोड कोटा| कोटा क्षेत्र के घोंघा जलाशय के समीप हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी उत्साह और खुशी के साथ इस धार्मिक त्यौहार को सांस्कृतिक धरोहर के रूप में आंवला नवमी के रूप में मनाया गया।कोरी डैम के घोघा जलाशय में आंवला नवमी का पर्व मनाने के लिए आसपास के ग्रामीण क्षेत्र एवं शहरी क्षेत्र से लोग आते हैं इस त्यौहार में महिला बच्चे बुजुर्ग पुरुष आदि लोग पहुंचते हैं। आंवला पेड़ के नीचे पूजा अर्चना कर इस त्यौहार को खुशी के साथ मनाते हैं इस सांस्कृतिक त्यौहार में आज के दिन कोरी डैम घोंघा जलाशय में भारी संख्या में लोगों की भीड़ के साथ अलग-अलग क्षेत्रों से लोगों का आना जाना सुबह से ही चालू हो जाता है और लगभग देर शाम तक समाप्त हो जाता है।
कोटा क्षेत्र के नगरवासियों एवं आसपास के ग्राम वासियों के द्वारा भारी संख्या में आंवला पेड़ के नीचे पूजा अर्चना कि जाती है और आज के दिन इस पर्व को  मनाते हैं।घोंघा जलाशय  में कई वर्षों से आज के दिन जुआ खेलने की परंपरा सी बन गयी थी साथ ही शराब का सेवन करते लोग दिखाई दिया करते थे इस लिए यहाँ वाद विवाद की स्थिति निर्मित हो जाती है आंवला नवमी के पर्व पर इस बार शराब पीने व जुआ खेलने पर अनुभागीय अधिकारी कोटा एस डी एम देवेंद्र पटेल एवं अनुभागीय अधिकारी पुलिस विश्व दीपक त्रिपाठी ने प्रतिबंध लगा दिया था।आँवला नवमी के दिन परंपरा के  की आड़ में लोग जुआ खेलने बिलासपुर जिले सहित अन्य जिलों से भी यहाँ बड़ी संख्या में लोग यहाँ पहुचते है। पर इस बार कोटा पुलिस की टीम के जागरूकता के कारण इस बार जुआरियों की एक ना चली और इस बार कोरी डेम में जुआरी जुआ खेलने में नाकाम रहे।जंगलो के अंदर जुआ खेल रहे जुआरियों को कोटा पुलिस ने जुआ खेलते 50 लोगो को गिरफ्तार किया जुआरियों से 52 पत्ती के साथ एक लाख आठ हजार दो सौ बीस रुपये जप्त भी की है। आँवला नवमी में पिकनिक मनाने आये लोगो ने कोटा पुलिस की इस कार्यवाही से बहुत खुश नजर आए। लोगो ने कहा कि आज के दिन परम्परा के नाम पर जुआ खेलने आये असमाजिक तत्वों के कारण यहाँ स्थानीय व अन्य क्षेत्रों के लोग अपने परिवार के साथ पिकनिक मनाने नही आते थे। आज पुलिस की कार्यवाही से अब लोग पिकनिक के लिए आने लगेंगे ।

 

error: Content is protected !!