अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति ने वरिष्ठ पत्रकार  विनोद वर्मा की गिरफ्तारी पर जताया विरोध

०० बिलासपुर पुलिस महानिरीक्षक को महामहिम राष्ट्रपति एवं महामहिम राज्यपाल को नाम सौपा ज्ञापन

बिलासपुर| वरिष्ठ पत्रकार  विनोद वर्मा  को छत्तीसगढ़ पुलिस एवं उत्तरप्रदेश पुलिस की सयुंक्त टीम द्वारा रात्रि 3 बजे उनके निवास से जबरदस्ती उठाकर गिरफ्तार किये जाने के विरोध में अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के सदस्यों ने बिलासपुर आईजी  के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति एवं महामहिम राज्यपाल को ज्ञापन सौपकर वरिष्ठ पत्रकार  विनोद वर्मा को निशर्त रिहाई का निवेदन कर मामले के  निष्पक्ष जांच की मांग की  है|

अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के सदस्यों का कहना है की  वरिष्ठ पत्रकार  विनोद वर्मा की इस तरह से गिरफ्तारी लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ पर कुठाराघात है ऐसा प्रतीत हो रहा है की पत्रकारिता अब जोखिम का काम हो गया है अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के प्रदेशअध्यक्ष गोविन्द शर्मा ने घटनाक्रम की निंदा कर पुलिस की कार्यप्रणाली को कठघरे में खड़ा करते हुए  कहा की लोकतन्त्र में पत्रकारों को इस तरह से उत्पीड़न किया जाना संविधान का अपमान है।उन्होंने कहा की  पत्रकारो की आवाज को दबाने के लिये माफिया प्रवर्ती के लोगो द्वारा तरह तरह के हतकंडे अपनाये जा रहे है, जिस पर अंकुश लगाया जाना जरूरी है। इस दौरान राकेश प्रताप सिंह परिहार राष्ट्रीय महासचिव, गोविन्द शर्मा प्रदेश अध्यक्ष, डी पी गोस्वामी प्रदेश सचिव, उत्पल्सेन गुप्ता प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष,शराफत अली राष्ट्रीय कार्यसमिति, अमित सन्तवानी बिलासपुर जिलाअध्यक्ष, शंकर अधिजा जिला उपाध्यक्ष, अनिल शुक्ला, प्रवीण मौर्य, नरेंद्र ध्रुव, मंगल जी, आदि पत्रकार शामिल थे|

error: Content is protected !!