एसडीएम के नाम पर रिश्वत लेते क्लर्क रंगेहाथों गिरफ्तार

०० किसान से भूमि डायवर्सन के लिए 10 हजार रुपए रिश्वत की गयी थी मांग

०० एसडीएम के बाबू आरिफ ने अधिकारियों के सामने कबूला रुपए साहब के कहने पर लिया

रायपुर| डोंगरगढ़ ब्लॉक मुख्यालय स्थित अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय (एसडीएम राजस्व) में गुरुवार को उस समय हडकंप मच गया जब एसीबी की टीम ने दबिश दी वहां एसडीएम के बाबू को 10 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया।

जानकारी के अनुसार एसडीएम आरबी देवांगन ने एक ग्रामीण किसान मनीष से भूमि डायवर्सन के लिए 10 हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी। इसकी शिकायत उन्होंने एसीबी से की थी। शिकायत एवं पूर्व प्लानिंग के अनुसार मनीष ने रिश्वत की राशि आज एसडीएम कार्यालय में साहब की उपस्थिति में आरिफ नाम के बाबू को दी वहीं प्रार्थी की ओर से संकेत मिलते ही एसीबी की टीम ने बाबू को रुपए लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया।एसडीएम के बाबू आरिफ ने एसीबी के अधिकारियों के सामने कबूला कि रुपए साहब के कहने पर मनीष से बतौर घूस लेकर दिया है। एसीबी के अधिकारी दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रहे हैं।कार्रवाई के दौरान किसी भी बाहरी व्यक्ति को कार्यालय के भीतर जाने नहीं दिया गया मीडिया को भी दूर रखा गया। बताया जाता है कि बाबू ने घूस की राशि प्रार्थी से लेकर एसडीएम को दे दी थी। बाबू को गिरफ्तार कर जब अधिकारी एसडीएम के कक्ष में गए और हाथ धुलाने कहा तो वे भड़क गए। जबरिया हाथ धुलाए जाने के नाम पर एसडीएम और टीम के बीच झड़प भी हुई है। वहीं कार्यालय के अन्य कर्मचारियों ने बताया कि हाथ धुलाने के बाद एसडीएम के हाथों से रंग नहीं निकला। जांच पूरी होने एवं एसीबी के अधिकारियों द्वारा जानकारी के बाद मामले का खुलासा होगा।

 

error: Content is protected !!