गरीबी-अशिक्षा सहित समस्त बुराइयों से मुक्त कर नव छत्तीसगढ़ का निर्माण करेंगे : डॉ. रमन सिंह

०० विजयादशमी समारोह में शामिल हुए मुख्यमंत्री

०० आकर्षक आतिशबाजी के साथ हुआ रावण, कुम्भकर्ण  और मेघनाथ के पुतलों का दहन

रायपुर| विजयादशमी के अवसर पर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के डब्ल्यू. आर. एस. कालोनी में आयोजित दशहरा उत्सव में रावण, कुम्भकरण और मेघनाथ के विशाल पुतलों का दहन किया गया।
कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी श्रीमती वीणा सिंह, लोकसभा सांसद श्री रमेश बैस, लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, पाठ्यपुस्तक निगम के अध्यक्ष श्री देवजी भाई पटेल, विधायक श्री श्रीचंद सुंदारानी, छत्तीसगढ़ औद्योगिक वित विकास निगम के अध्यक्ष श्री छगन मुंदड़ा, नगर निगम रायपुर के सभापति श्री प्रफुल्ल विश्वकर्मा और रेल्वे मंडल के महाप्रबंधक श्री राहुल गौतम सहित अन्य जनप्रतिनिधि समारोह में उपस्थित थे। इस अवसर पर आकर्षक आतिशबाजी, लेजर शो और रामायण कथा पर आधारित थ्रीडी फिल्म का एलईडी पर प्रस्तुतिकरण किया गया।
समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेशवासियों को विजयादशमी की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान में ऐसे कम जगह है, जहां विजयादशमी का इतना अच्छा आयोजन होता है। इसके लिए यहां के आयोजक बधाई के पात्र है। उन्होंने कहा भगवान राम ने अहंकार रूपी रावण का वध किया था। इस अवसर पर विजयादशमी का उत्सव मनाया जाता है, जिस प्रकार श्री राम ने बुराई के प्रतीक रावण को पराजित किया, ठीक उसी तरह हमें देश में व्याप्त समस्याओं, विशेष रूप से आतंकवाद और नक्सलवाद पर विजय पाने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा छत्तीसगढ़ भगवान श्रीराम का ननिहाल है, इसलिए प्रदेश में सुख और समृद्धि है और छत्तीसगढ़ निरन्तर प्रगति की राह में आगे बढ़ रहा है। उन्होंने प्रदेश की जनता से आव्हान किया कि हम सब संकल्प ले कि प्रदेश में गरीबी, अशिक्षा सहित समस्त बुराई से मुक्त करें और नए छत्तीसगढ़ का निर्माण करेे। कार्यक्रम को लोकसभा सांसद श्री रमेश बैस और लोकनिर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत ने भी सम्बोधित किया।

 

error: Content is protected !!