कोटा विधानसभा में जगराता कार्यक्रम आयोजित कर शैलेष पाण्डेय ने किया शक्ति प्रदर्शन

०० आगामी विधानसभा चुनाव में कोटा क्षेत्र से हो सकते है शैलेष पाण्डेय कांग्रेस प्रत्याशी

०० प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने बनाया शैलेष पाण्डेय को कोटा से प्रत्याशी बनाने का मन

०० जगराता में हजारो की संख्या में शामिल हुए कोटा निवासी, कार्यक्रम आयोजन पर जताया हर्ष    

कोटा| नवरात्रि की अष्टमी के दिन कोटा नगर के गांधी बाग स्थित माता रानी के जगराता कार्यक्रम में लगभग हजारों की संख्या में श्रद्धालुगण शामिल हुए,इस कार्यक्रम में प्रसिद्ध भक्ति गायक दिलीप षडगी ने मनभावन प्रस्तुति देकर नगरवासियों का मन मोह लिया| इस कार्यक्रम का आयोजन आदित्य वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष व कांग्रेस नेता शैलेष पांडेय द्वारा किया गया जिसमे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल सहित जिले के कई कांग्रेसी नेता शामिल हुए|
जगराता कार्यक्रम में पहुंचे प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल व आदित्य वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष व डॉ. सीवी रमन विश्वविद्यालय के पूर्व कुलसचिव कांग्रेस नेता शैलेष पांडे की उपस्थिति व कोटा नगर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मौजूदगी से माहौल और भी रोमांचक हो गया| एक ओर जहा कोटा नगर की जनता को जगराता कार्यक्रम की भक्तिमय प्रस्तुति देखने को मिली वही दूसरी ओर कांग्रेस के कद्दावर नेताओ को एक मंच पर देखकर 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव का झांकी दिखाई दी। यू तो जब से शैलेष  पांडेय ने कांग्रेस प्रवेश किया था तब से उनके कांग्रेस की टिकिट से चुनाव की प्रबल आशंका जताई जा रही थी| शैलेष पाण्डेय मुखर होकर बिलासपुर विधायक व  मंत्री अमर अग्रवाल के खिलाफ सार्वजनिक रूप से बोलते रहे जिससे अनुमान लगाया जा रहा था कि वे बिलासपुर से ही विधानसभा चुनाव लड़ेंगे पर अचानक उनका दौरा बिलासपुर में कम कोटा विधानसभा में तेजी से बढ़ा| कोटा में बढ़ती सक्रियता से यह कयास लगाया जाने लगा कि शैलेष पांडे को कोटा से ही लड़ाया जा सकता है|जगराता कार्यक्रम में क्षेत्रीय विधायक रेणु जोगी की अनुपस्थिति भी चर्चा का विषय रहा साथ ही तीन बार के नगर पंचायत अध्यक्ष रहे कांग्रेस के अरुण त्रिवेदी द्वारा भूपेश बघेल से सार्वजनिक रूप से शैलेष पांडे के नाम का प्रस्ताव रखना कोटा विधानसभा से शैलेश पांडे को टिकट देने व उन्हें  जिताने के लिए प्रतिबंध होना एक  तरह से कोटा के कांग्रेस कार्यकर्ताओ की सहमती के रूप में देखा जा रहा है| जगराता कार्यक्रम के जरिए शैलेष पांडेय व उनके समर्थकों द्वारा एक प्रकार से शक्ति प्रदर्शन ही था जब मीडिया द्वारा रेणु जोगी के अनुपस्थिति का कारण पूछा गया तो बड़ी सफाई से भूपेश बघेल द्वारा बचाव किया गया साथ ही रेणु जोगी के कांग्रेस में रहने के सवाल को भी उन्होंने हंसकर अभी तो है कहकर बता दिया कि आगे की कोई गारंटी नहीं है किसानों के मुद्दे पर उन्होंने बात की साथी नवरात्रि की अष्टमी के दिन 19000 बेटियों के गायब होने के बारे में उन्होंने प्रदेश सरकार को जिम्मेदार बताया साथ ही 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव को कांग्रेस बनाम भाजपा के बीच ही सीधे लड़ाई होगी ऐसा उन्होंने बताया तीसरे विकल्प को उन्होंने एक तरह से नकार दिया। आम आदमी पार्टी के छत्तीसगढ़ में पूरे 90 विधानसभा में चुनाव लड़ने की घोषणा पर उन्होंने कहा कि चुनाव लड़ने का हक सभी पार्टी को है पर उनका कोई असर छत्तीसगढ़ में नहीं होगा लड़ाई सीधे कांग्रेस व भाजपा की  होगी।

error: Content is protected !!