भाजपा ने बीमा कंपनियों को लाभ पहुंचाने किसानों से किया धोखा : दिग्विजय सिंह

रायपुर| पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने आज कांग्रेस भवन में प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि प्रदेश में सूखा पड़ा हुआ है। बड़े पैमाने पर किसान संकट में है। इसके विपरित प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में बीमा कंपनियों को लाभ पहुंचाने में लगे है। बीमा कंपनियों ने किसानों से प्रीमियम के रूप में करोड़ों रुपए वसूली है उन्हें 10 से 30 हजार करोड़ रुपए का लाभ हुआ। प्रत्येक किसान से प्रीमियम के रूप में 17 सौ रुपए लिए गए,लेकिन उन्हें कृषि बीमा योजना का लाभ नहीं मिला। यह सारा खेल भाजपा ने निजी कंपनियों को फायदा उठाने के लिए किया था। मोदी कहते हैं कि ना खुद खाऊंगा ना किसी को खाने दूंगा,लेकिन यह व्यवहारिक रूप से सही प्रतीत नहीं होता। वह खुद भ्रष्टाचार कर करोड़ों रुपए अर्जित कर रहे हैं। उल्टे कांग्रेस के नेताओं को सीबीआई आयकर और इस इंफोर्समेंट का सामना करना पड़ रहा है।

दिग्विजय सिंह ने कहा कि पिछड़ा वर्ग आयोग के गठन का उन्होंने कभी भी विरोध नहीं किया था। भाजपा ने जो प्रस्ताव तैयार किया है। वह व्यवहारिक रुप से सही नहीं है। आयोग को मजबूत बनाने की सिफारिश की थी। कांग्रेस पार्टी इसे संवैधानिक दर्जा दिए जाने के पक्ष में भाजपा के लोग सूखे को लेकर राजनीति कर रहे हैं। इस वर्ष पड़े सूखे को लेकर उनके द्वारा मिठाइयां बांटी जा रही है यह भ्रष्टाचार का एक बड़ा प्रमाण है। मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह से लेकर प्रदेश के अवसर तक भ्रष्टाचार करने में लगे हुए हैं। उनके दिग्गज नेता और मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के ऊपर लगे करोड़ों के भ्रष्टाचार के आरोप की भाजपा के अध्यक्ष जांच कर रहे हैं जबकि वह खुद हत्या और कई अन्य गंभीर तरह के अपराधों में लिप्त थे। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा जिसे अपना आदर्श बताती थी उन्हें लूप लाइन में डाल दिया है। नोटबंदी पर प्रधानमंत्री मोदी ने देश को तबाह कर दिया। बिना किसी तैयारी के नोटबंदी और जीएसटी को लागू किया । यूपीए सरकार में चलाई गई योजनाओं का नाम बदलकर इसे लागू कर रहे हैं जबकि पहले वह खुद इसका विरोध करते थे। मोदी ने सऊदी में विदेशों से काला धन वापस लाने और गरीबों को 15 लाख देने का वायदा किया था। उसे भी अब वह भूल चुके हैं। पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के संबंध में उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने उन्हें मुख्यमंत्री बनाया, लेकिन वह खुद ही पार्टी छोड़कर चले गए और अब वह सोनिया गांधी का विरोध कर रहे हैं। इससे बड़ा दुर्भाग्य उनका और क्या होगा। उन्होंने आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह से लेकर उनके परिवार वालों के खिलाफ पीडीएस घोटाले में नाम सामने आया था, लेकिन प्रधानमंत्री ने इस मामले पर आज तक कोई स्पष्टीकरण नहीं मांगा। कोल ब्लॉक आवंटन में भी हुआ भ्रष्टाचार किसी से छिपा नहीं है।

कांग्रेस ने किया था गौ सेवा आयोग का गठन :- उन्होंने कहा कि भाजपा अब गौ माता को लेकर राजनीति कर रही है जबकि कांग्रेस ने ही 1993 में गौ सेवा आयोग का गठन किया था। ङ्क्षसह ने वरुण गांधी के प्रति केंद्रीय गृह राज्यमंत्री द्वारा दिए गए बयान की तीखी आलोचना की । इस पर कहा कि भाजपा की कथनी और करनी का अंदाजा लगाया जा सकता है। राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने के संबंध में उन्होंने कहा कि नेता का चुनाव पार्टी आलाकमान करती है। वह जिसे भी मनोनीत करेगी कांग्रेस के नेता उसका पालन करेंगे।

 

error: Content is protected !!