छत्तीसगढ़ में भारत नेट योजना का प्रथम चरण नवंबर में होगा पूर्ण

०० मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने केन्द्रीय दूरसंचार राज्य मंत्री सिन्हा से मिलकर नियत समय में कार्य पूरा कराने का किया आग्रह

रायपुर| छत्तीसगढ़ में महत्वाकांक्षी भारत नेट योजना का प्रथम चरण हर हाल में नवम्बर माह तक पूरा कर लिया जायेगा । यह आश्वासन आज नई दिल्ली में केन्द्रीय दूरसंचार राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री मनोज सिन्हा ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के साथ आयोजित एक बैठक में दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि प्रथम चरण का लगभग 70 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो गया है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे नवंबर तक प्रथम चरण का कार्य पूर्ण कर लें।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ की एक विशेष परिस्थिति है और ऐसे में विकास की योजनाओं को तीव्र गति से राज्य के दूरस्थ इलाकों तक पहुंचाने और नक्सल विरोधी अभियान की सफलता के लिए भी निर्बाध और उच्च गुणवत्ता की दूरसंचार व्यवस्था का होना अति आवश्यक है। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री से आग्रह किया कि भारत नेट योजना के तहत छत्तीसगढ़ में पुरानी तकनीक के स्थान पर नयी रिंग टेक्नालॉजी को अपनाएंगे तो इससे प्रभावी संचार तंत्र स्थापित करने में मदद मिलेगी। केन्द्रीय मंत्री ने आश्वस्त किया कि वे इस संदर्भ में आगामी बैठक में विचार कर निर्णय लेंगे।डॉ. रमन सिंह ने कहा कि भारत नेट के प्रथम चरण में चार हजार से अधिक ग्राम पंचायतों को उच्च गुणवत्ता की कनेक्टिविटी का लाभ मिलेगा। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री का आभार माना की दुरूह परिस्थितियों में भी दूरसंचार विभाग ने सरगुजा और बस्तर के दूरस्थ इलाकों में भी 460 टेलिकॉम टॉवर स्थापित करने का कठिन कार्य पूरा किया है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि प्रथम चरण का कार्य नवंबर माह में पूरा हो जाएगा और दूसरे चरण का कार्य भी तेजी से प्रारंभ किया जायेगा। बैठक के दौरान दूरसंचार विभाग की सचिव श्रीमती अरूणा सुंदरराजन, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री अमन कुमार सिंह, आवासीय आयुक्त श्री संजय कुमार ओझा और विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी श्री विक्रम सिसोदिया और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 

error: Content is protected !!