राजस्व प्रकरण समय सीमा के भीतर निपटाये- श्री एक्का

मुंगेली- कलेक्टर एनएन एक्का ने आज शनिवार को कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में राजस्व अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कामकाज की समीक्षा की। उन्होने राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया कि राजस्व प्रकरणों को समय सीमा के भीतर निपटाये। अतिक्रमण के लंबित प्रकरण अनिवार्यतः निराकरण करें। उन्होने राजस्व अधिकारियों से कहा कि पलायन पर नजर रखें। अधिक से अधिक मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होने बताया कि स्वयं के संसाधन होने पर भी कृषक गर्मी में धान की फसल नहीं ले सकेंगे। लोक सेवा गारंटी अधिनियम का पालन सुनिश्चित करें। उन्होने राजस्व अधिकारियों से कहा कि ग्राम पंचायतों में एक क्विंटल चावल उपलब्धता तय करें।
कलेक्टर श्री एक्का ने राजस्व अधिकारियों से कहा कि डायव्हर्सन के लंबित प्रकरणों को निराकरण करें। शासन और राजस्व बोर्ड के निर्देशों का पालन करते हुए दर्ज प्रकरणों को निर्धारित पेशी में निपटाये। उन्होने विवादित नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन और अतिक्रमण के प्रकरणों की जानकारी ली तथा कहा कि राजस्व विवादमुक्त ग्राम की ओर आगे बढ़े। अभिलेखों में सुधार और नजूल प्रकरण, भू-अर्जन, भू-भाटक, अर्थदण्ड वसूली, बैंक बकाया वसूली, अधिकार अभिलेख, आबादी सर्वे, सड़क दुर्घटना के प्रकरणों की समीक्षा की। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों से कहा कि निस्तारी, पानी, तालाबों में सुरक्षित रखें। नाला बंधान का कार्य युद्ध स्तर पर किया जाना है। ग्राम पंचायतों में स्वीकृत कार्य प्रारंभ किया जाना है। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने राजस्व अधिकारियों से कहा कि मनरेगा के तहत पंजीकृत श्रमिकों को मानव दिवस पर काम उपलब्ध कराया जाना है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास का कार्य भ्रमण के दौरान देखें तथा स्वीकृत आवास का कार्य प्रारंभ कराने में सहयोग करें।
कलेक्टर ने पंजीकृत व्ही.टी.पी. से कहा कि अपने आसपास के क्षेत्रों में विद्यार्थियों को जानकारी देकर प्रशिक्षण के लिए प्रेरित करें ताकि आई.टी.आई में उपलब्ध ट्रेडों में प्रशिक्षण प्राप्त कर स्वरोजगार प्राप्त कर सके। उन्होने एसडीएम और तहसीलदारों के रीडर से कहा कि हर सप्ताह आयोजित होने वाले टी.एल. की बैठक में दर्ज प्रकरणों एवं निराकृत प्रकरणों की जानकारी दें।
बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लोकेश चंद्राकर, एसडीएम मुंगेली सुमित अग्रवाल, एसडीएम पथरिया केएल सोरी, डिप्टी कलेक्टर जेएस कुशराम, तहसीलदार जय उराव, शबाब खान, सहायक श्रम पदाधिकारी, सहायक संचालक मत्स्य एवं कृषि विभाग के अधिकारी, राजस्व निरीक्षक सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

error: Content is protected !!