पत्रकारों ने महिला पत्रकार गौरी लंकेश के हत्यारो की तत्काल गिरफ्तारी को लेकर राष्ट्रपति के नाम सौपा ज्ञापन

०० विभिन्न पत्रकार संगठन के पत्रकारो ने एकजुट होकर कलेक्टर को सौपा ज्ञापन

बिलासपुर | वरिष्ठ महिला पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या कर फरार आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी नहीं किये जाने को लेकर प्रदेश के पत्रकारो ने इस घटना की कड़ी आलोचना करते हुए जमकर विरोध जताया है| बिलासपुर जिले के पत्रकारो ने देश के राष्ट्रपति के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौपकर आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है|

वरिष्ठ महिला पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या किये जाने की देशभर में आलोचना हो रही है प्रदेश के पत्रकारों में भी इस घटना को लेकर जमकर आक्रोश है|बिलासपुर जिले के पत्रकारों ने आज जिला कलेक्टर से मुलाकात कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौपकर वरिष्ठ महिला पत्रकार गौरी लंकेश की निर्मम हत्या किये जाने व हत्या के आरोपी की अब तक गिरफ्तारी नहीं किये जाने को लेकर जमकर आक्रोश जताते हुए तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है| इस दौरान पत्रकारो ने कहा कि 5सितम्बर की रात्रि में वरिष्ठ महिला पत्रकार गौरी लंकेश ले घर राजेश्वरी नगर बैंगलरू में घर घुसकर निर्मम हत्या करने वाले आरोपी अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है,जिससे देश के पत्रकारों में काफी आक्रोश दिखाई पड  रहा है|देश में हर जगह पत्रकार सड़क पर न्याय के लिए आन्दोलन कर रहे है आये दिन पत्रकारों के ऊपर हो रहे हमले निंदनीय है इसी तरह बिलासपुर में भी 20 दिसंबर 2010 की रात्रि को वरिष्ठ पत्रकार सुशील पाठक की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी जिसका आरोपी आज तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है एवं पूरा पत्रकार जगत अभी भी न्याय के इन्तजार में है| पत्रकारों ने आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी कर उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग के साथ पत्रकारों को सुरक्षा मुहैया कराने की अपील की है| गौरतलब है कि महिला पत्रकार गौरी लंकेश हिंदुवादी राजनीति के सख्त खिलाफ थीं। उन्होंने भाजपा और संघ के खिलाफ कई बार कलम चलाई, इसलिए इन्हीं संगठनों की ओर अंगुली उठाई जा रही है। प्रदेश के पत्रकारों व पत्रकार संगठनो ने इस हत्या की कड़ी निंदा करते हुए विरोध जताया है|

error: Content is protected !!