नगर की दुकानों में एक्सपायर सामानो की खुले आम बिक्री

नियमों की खुले आम अनदेखा कर लोगो की जान के साथ खेल
मुंगेली- शहर के अनेक दुकानों, होटलों व हास्पिटल के सामने ठेलों में बिक रहे खाद्य पदार्थों में न तो उसे बनने व एक्सपायर होने की तिथि के साथ-साथ वजन व कीमत का भी उल्लेख नहीं है। इसकी बिक्री भी दुकानदार धड़ल्ले से कर रहे है। खुलेआम इस तरह से बने सामानों का उपयोग पालक बच्चों के टिफिन में भी कर रहे हैं। विभाग के अधिकारियों द्वारा कार्यवाही नहीं होने के कारण व्यापारी अपनी मनमानी कर इस प्रकार से बनाए गए सामानों को बेच रहे है।
खाद्य पदार्थों को खुले में रखकर परोसा जा रहा है, खाद्य पदार्थों में न तो उसे बनने व एक्सपायर होने की तिथि के साथ-साथ वजन व कीमत का भी उल्लेख नहीं होने से इन सामानों में ब्रेड, टोस्ट, चिप्स, केक आदि सामान शामिल है। शहर के अधिकतर चाय ठेलों, होटलों सहित किराना दुकानों में ऐसे सामानों की बिक्री सुबह में शाम तक होती रहती हैं।बस स्टैण्ड में भी इन सामानों की बिक्री अधिक होती है। शहर के कुछ दुकानों में चिप्स तथा नमकीन के पैकेट को लेकर हमेशा भ्रम बना रहता है। जब खराब होने की बात को लेकर दुकानदार के पास सामान को वापस करने के लिए आते हैं, तो वे सामान को वापस लेने से इंकार कर देते हैं। शहर के साथ-साथ ग्रामीणों क्षेत्रों में इस प्रकार के सामानों का उपयोग अब व्यापक पैमाने का उपयोग अब व्यापक पैमाने पर हो रहा है। सस्ता होने के कारण लोगों ने भी इसका उपयोग पहले की अपेक्षा अधिक कर दिया है। इस प्रकार से बने सामानों की नापतौल सही करने व बिक्री पर पाबंदी लगाने के लिए कई बार खा़द्य एवं औषधि विभाग से कहा गया, लेकिन दोनों विभाग के अधिकारियों द्वारा कार्यवाही नहीं होने के कारण व्यापारी अपनी मनमानी कर विभाग के नियमों की खुले आम अनदेखा कर लोगो की जान के साथ खेल रहे है ।

error: Content is protected !!