कानून की मर्जी से नहीं डॉक्टर की पर्ची से चलती है हाई पावर कमेटी: अमित जोगी

रायपुर । हाई पावर छानबीन समिति को मरवाही विधायक श्री अमित जोगी के जाति प्रमाण पत्र की जांच किए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मरवाही विधायक अमित जोगी ने कहा कि हाई पावर कमिटी रमन पावर्ड कमिटी है जो कानून की मर्जी से नहीं बल्कि डॉक्टर की पर्ची से चलती है इसलिए इस रमन पावर कमेटी की कोई विश्वसनीयता नहीं है। इस कमेटी का नियम अनुसार गठन न करने के लिए एवं डॉक्टर रमन सिंह की साजिश में प्रदेश की कोई भी पांच वरिष्ठ अधिकारियों ने इस कमिटी गठन में हिस्सेदार नहीं बने इसलिए उच्च पावर कमेटी के नाम पर डॉ रमन सिंह को धर्मस्य कनिष्ठ अधिकारियों को इस कमेटी में रखना पड़ा और एक कनिष्ठ अधिकारी को ही एक के स्थान पर 3 अलग-अलग पदनाम देना पड़ा।
मरवाही विधायक अमित जोगी ने कहा कि इस कमेटी को केवल अपने आका डॉक्टर रमन सिंह को खुश करने लिये उनके द्वारा लिखी गई स्क्रिप्ट अनुसार काम करना आता है । इस कमेटी ने डॉ रमन सिंह द्वारा ही जाति मामले के लिए बनाए गए कानून ग्राम सभा के प्रस्ताव एवं विजलेंस रिपोर्ट की नियमों को दरकिनार कर डॉ रमन सिंह के इशारे पर उनकी सबसे बड़े राजनैतिक विरोधी श्री अजीत जोगी वह मुझे मात्र राजनैतिक नुकसान पहुंचाने के उद्देश से ही गैरकानूनी ढंग से अपनी रिपोर्ट बनाई ।विधायक अमित जोगी ने कहा कि डॉ रमन सिंह चाहे मेरे परिवार व मुझसे जितना भी बैर निभा ले चाहे, पूरे सरकार एवं प्रशासन को अपने साजिश में सम्मिलित कर ले लेकिन उन्हें प्रदेश की जनता व न्याय व्यवस्था पर पूरा विश्वास है कमिटी द्वारा की गई किसी भी कार्यवाही को न्यायालय में चुनौती दूंगा मैं अपने बेदाग साबित हो कर डॉ रमन सिंह के साजिश का भांडाफोड़ करूंगा

error: Content is protected !!