अपनी असफलओं को ध्यान दें अमर अग्रवाल : शैलेष पाण्डेय

०० कांग्रेस को नसीहत देने के बजाए अपने कार्यकाल को लेखा जोखा करें अमर अग्रवाल

०० नसबंदी, भदौरा,कुनकुरी,गौ हत्या व अंखफोड़वा जैसे कांडों का कार्यकाल है अमर अग्रवाल का

 बिलासपुर। प्रदेश के उद्योग मंत्री अमर अग्रवाल ने किसानों को बोनस देने और कांग्रेस परेशान बयान  देने के बाद कांगेस नेता शैलेष पाण्डेय ने मंत्री पर सीधा पलटवार किया हैं। शैलेष पाण्डेय ने कहा कि अमर अग्रवाल अपने 19 साल के कार्यकाल का लेखा जोखा तैयार करें जो अब अंतिम होने वाला है उन्हें उनके शर्म आनी चाहिए। नसबंदी, भदौरा,कुनकुरी,गौ हत्या, सिम्स भर्ती घोटाला और अंखफोड़वा,किसानो की आत्महत्या जैसे कांड उनके कार्यकाल में हुए हैं। साथ ही सीवरेज के कारण हमारा शहर 15 साल पीछे हो गया। हर ओर भ्रष्टाचार  है मंत्री जी को काग्रेस को नसीहद देना छोड अपनी करनी का हिसाब करना चाहिए जो अब कुछ दिन का ही रह गया हैं। जनता चुनाव में हिसाब किताब करने वाली है।

शैलेष पाण्डेय ने कहा कि भाजपा नेता और प्रदेश के मंत्री अमर अग्रवाल जो अपने कार्यकाल को देखे। जिस भी विभाग की कमान उनको सौंपी गई। उसमें उनके कितनी असफलताएं मिली हैं ज्यादा अच्छा है। मुझे उन्हें याद दिलाने की जरूरत नहीं है कि उन्ही के कार्यकाल में छत्तीसगढ़ में मासूम लोगों की आंखें फूट गई, जिसका दुख आज भी प्रदेश की जनता को है। मासूम माताओं की मार डाला गया और बच्चें अनाथ हो गए ये वो न भूले। दूध मुहें बच्चों के सिर से मां का साया उठ गया। पता नहीं इसके बाद भी मंत्री जी को शर्म भी आती है या नहीं आती है। शैलेष पाण्डेय ने कहा कि छत्तीसगढ़ के अन्नदाताओं ने भी भाजपा के कार्यकाल में ही आत्महत्याएं की हैं। इसकी जिम्मेदार सिर्फ भाजपा सरकार और इसकी मंत्री ही हैं। जिन्होंने गरीब किसानों की पहले तो खून चूसा और उन्हें आत्म हत्या करने के लिए मजबूर किया। शैलेष पाण्डेय ने कहा कि प्रदेश के 37 लाख किसानों को उनकी खून पसीने की कमाई का बोनस देने के बजाए, सिर्फ 13 लाख किसानों को बोनस देने की घोषणा सरकार ने की है, यह एक ढोग मात्र ही है और प्रदेश के किसानों के साथ छलावा है। अन्नदाताओं की कड़ी मेहतन से उगाया हुआ करोड़ों क्विंटल धान सरकार के संरक्षण में सड़ जाता है। आज तक सरकार उनके रखने के लिए व्यवस्था ही नहीं कर पाई है। इस बात के लिए सरकार को शर्म नहीं आती है। धान को सुरक्षित रखने के लिए सरकार आज तक शेड तक नहीं बना पाई है, लेकिन प्रदेश भर में शराब की दुकान खुलवाने के लिए अमर अग्रवाल 10 हजार करोड़ रूपए का प्रावधान बड़ी ही चतुराई और सफलता से कर देते है उनका कल पत्रकारवार्ता में कांग्रेस के उपर लगाया आरोप एक नौटंकी भरा है। अपने राजनीतिक तीर से वे प्रदेश की जनता और किसानों को धोखा देने का प्रयास न करें। प्रदेश में भदौरा कांड ,कुनकुरी घोटाला,नसंबंदी कांड हुए जिसमें आज तक दोषियों पर कार्रवाई नहीं हुई हें, मंत्री अमर अग्रवाल अपने कार्यकाल की असफलताओं का विषलेपण करें तो अच्छा होगा वे कांग्रेस को नसीहत और प्रदेश की जनता को धोखा देने का प्रयास न करें। बीते 19 साल से शहर की जनता मंत्री के हर अवगुण से वाकिफ हो गई है और शहर की दुर्दशा  देख रही है।

कस्बे से महानगर के मुंगेरीलाल के सपने न देखें मंत्री जी :- शैलेष पाण्डेय ने कहा कि शहर विधायक और मंत्री अमर अग्रवाल बिलासपुर शहर को कस्बे से महानगर बनाने का मुगेली लाल को सपना खुद भी देख रहे है और इसी कारण सीवरेज ने पूरे शहर को बर्बाद कर दिया है। शहर की जनता त्रस्त हो चुकी है और इसने करोड़ों रूपए का कमीशन खाया गया और कई लोगों की जान भी जा चुकी है। ये सब अमर अग्रवाल के कार्यकाल में ही हुआ है।मंत्री जी इस बात को भूल जाते है। उनके ष्षर्म क्यों नहीं आती। विभाग की नाकामयाबी को ध्यान दें। मंत्री जी ने पूरे षरह को बर्बाद करके सत्यानाश कर दिया। इस बात की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मंत्री जी को तो सभी पदों से इस्तीफा दे देना चाहिए। शैलेष पाण्डेय ने कहा कि गौ हत्याएं कराने वाली और गौ हत्यारों को सरंक्षण देने वाली भाजपा सरकार के मंत्री अमर अग्रवाल को चिंतन और मनन करना चाहिए कि किस प्रकार र्धम हारजा जा रहा है और अधर्म को बोलबाला होता जा रहा है।

 

error: Content is protected !!