कलेक्टर ग्राम बोकराकछार में बैगाओं से मिलकर सुनी समस्यायें

कलेक्टर द्वारा लोरमी में स्वास्थ्य केंद्र, एवं कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय का निरीक्षण

मुंगेली- कलेक्टर एनएन एक्का ने आज जिले के विकासखण्ड लोरमी के विस्थापित ग्राम बोकराकछार में बैगाओं से मिलकर उनकी समस्यायें सुनी तथा अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होने बैगाओं से खेती बाड़ी, पेयजल, सड़क, बिजली, शिक्षा, राशन सामग्री आदि की जानकारी ली। कलेक्टर ने लोरमी में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ओपीडी, जनऔषधी दवाईयां, प्रसव कक्ष, ऑपरेशन कक्ष एवं एक्स-रे कक्ष का निरीक्षण किया। अस्पताल परिसर का साफ-सफाई हेतु नगर पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को निर्देश दिए तथा अस्पताल को साफ-सुथरा रखने खण्ड चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए। उन्होने प्रसूति महिला ग्राम पथर्री की गीता एवं ग्राम हरदी की सुनीता से स्वास्थ्य चिकित्सा की जानकारी ली। अस्पताल परिसर में स्थित अन्नपूर्णा दाल भात केंद्र का भी निरीक्षण किया। ग्राम लोरमी के राजकुमार रजक ने ट्रायसिकल की मांग की। कलेक्टर ने सीपेज मरम्मत और अस्पताल की रंगाई पोताई हेतु लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता को निर्देश दिए।
कलेक्टर एक्का ने लोरमी स्थित निर्माणाधीन सौ बिस्तर मातृ शिशु अस्पताल का निरीक्षण किया निरीक्षण में कई कमियां पाई गई। जिस पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और ठेकेदार को बाउण्ड्रीवाल सुरक्षा व्यवस्था निर्माण हेतु आवश्यक निर्देश दिए। उन्होने नवनिर्मित थाना भवन का भी निरीक्षण किया निरीक्षण में अव्यवस्थित एवं कई कमियां पाई गई। मरम्मत कार्य हेतु लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता को निर्देश दिए ताकि पुलिस विभाग को हैण्डओवर किया जा सके। उन्होने कारीडोंगरी से बोकराकछार के मध्य एकलव्य आवासीय विद्यालय भवन हेतु स्थल का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता से चर्चा की। उन्होने ग्राम सारधा में कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय का निरीक्षण किया। उन्होने कक्षा 8वीं में बच्चों की क्लास ली। भोजन के बारे में पूछा। बच्चों ने बताया कि खाना अच्छा मिलता है। बैडमिंटन का खेल खेलते है। कलेक्टर ने भोजन मेनू भी देखा। इसी तरह सौ बिस्तर कन्या छात्रावास का निरीक्षण किया। वहां अधीक्षिक सविता घृतलहरे से छात्रावास गतिविधियों की जानकारी ली। छात्रावास परिसर में टाईल्स लगाने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता को निर्देश दिए। उन्होने बिजली पंखे आदि की जानकारी ली। कलेक्टर ने शासकीय आदिवासी कन्या आश्रम में बेडरूम, किचन रूम का निरीक्षण किया। आश्रम की अधीक्षिका से शिक्षा, भोजन व्यवस्था की जानकारी ली। आश्रम साफ-सुथरा पाए गए। अधीक्षिका ने बताया कि वर्ष 2010 में निर्मित है। ब्लैक बोर्ड और अन्य मरम्मत कार्य हेतु लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता को निर्देश दिए गए। निरीक्षण के दौरान किचन रूम सुव्यवस्थित पाए गए। कलेक्टर ने ग्राम बोकराकछार में प्राथमिक शाला का निरीक्षण किया। ग्राम पंचायत सरपंच को नवनिर्मित शाला भवन की अंदर कमरों को सफेद कलर में रंगाई-पोताई कराने हेतु निर्देश दिए। उन्होने पुरूषोत्तम, रामसिंह बैगा से धान फसल, सिंचाई, पेयजल, स्वास्थ्य की जानकारी ली। बैगाओं ने बताया कि सिंचाई की सुविधा नहीं है इसलिए फसल कमजोर है।

error: Content is protected !!