प्रदेश सरकार ने किसानो को दिया बड़ा तोहफा, 2100 करोड़ रुपए धान का बोनस देने की घोषणा

रायपुर| छत्तीसगढ़ सरकार ने किसानों के लिए बहुत बड़ी राहत देते हुए 2100 करोड़ रुपए धान का बोनस देने की घोषणा की है। किसान लंबे समय से बोनस की मांग कर रहे थे जिन्हें दीपावली पर तोहफे के रूप में ये करीब 13 लाख किसानों को ये बोनस दिया जाएगा।

सीएम रमन सिंह ने गुरुवार को सभी मंत्रियों की आपात बैठक बुलाई थी। जिसे लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे कि मंत्रिमंडल में फेरबदल व किसानों को बोनस को लेकर बड़ा ऐलान हो सकता है। बैठक के बाद सीएम ने प्रेसवार्ता कर किसानों को बोनस देने की घोषणा की। इस घोषणा के बाद प्रदेशभर के किसानों में खुशी की लहर दौड़ गई है।किसानों को इसका लाभ दीपावली के समय मिलेगा। सरकार शाम तक इसकी घोषणा करेगी। किसानों को पिछले साल का  धान का बोनस दीपावली पर मिलेगा। जबकि 2017 का बोनस अगले साल यानि 2018 में दिया जाएगा। मुख्यमंत्री की इस घोषणा के बाद किसानों ने राहत की सांस ली है। आपको बता दें प्रदेश में कई जिलों में सूखे की स्थिति है और कई किसानों द्वारा आत्महत्या के मामले सामने आ रहे थे। जहां एक तरफ किसान संघ लगातार सरकार पर बोनस देने का दवाब डाल रहे थे, वहीं विपक्ष भी विधानसभा में इसके लिए कई बार मुद्दा उठाता रहा है। विपक्ष बोनस के मामले पर सरकार को लगातार घेर रहा था। इसलिए 2018 में प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में चौथी बार सरकार बनाने के अभिप्राय से किसानों को लुभाने यह घोषणा की है।

सीएम ने अचानक बुलाई थी बैठक:- सीएम ने बीजेपी के कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में पार्टी के नेताओं के आपात बैठक बुलाई थी। इसमें अनुमान लगाया जा रहा था कि अचानक बुलाई कई इस मीटिंग में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए जा सकते हैं। इनमें मंत्रिमंडल में फेरबदल और किसानों को बोनस देने के मु²े पर कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है। बुधवार को ही सीएम ने सभी को राजधानी में उपस्थित होने को कहा था। इसके बाद सुबह तक पार्टी के सभी नेता रायपुर पहुंच गए थे। इस बैठक में सीएम रमन सिंह, बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव सरोज पांडे,छत्तीसगढ़ प्रभारी अनिल जैन,बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक समेत सभी मंत्री नेता मीटिंग में पहुंच चुके हैं।

error: Content is protected !!