फर्जी अंकसूची से किया शिक्षाकर्मी के लिए आवेदन,पुलिस ने किया गिरफ्तार

रायपुर| राजधानी रायपुर में लगातार ठगी और धोखाधड़ी जैसे मामले देखने को मिल रहें हैं, इन मामलों पर रायपुर पुलिस लगातार कार्यवाही कर रही है इसके बावजूद भी ऐसे मामलों की संख्या में कमी न होकर लगातार वृद्धि होती जा रही है|ऐसा ही एक मामला नौकरी हेतु दिए गए आवेदन में सामने आया है, जिसमे आवेदक ने जिला पंचायत विभाग में व्याख्याता के पद के लिए फर्जी मार्कशीट डाल कर आवेदन किया था जिसके सत्यापन कराये जाने के बाद ही इस बात का पता चल पाया है|

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार फरवरी 2013 मई 2014 के मध्य पंडरिया कबीरधाम निवासी भिखुराम टंडन ने जिला पंचायत विभाग में व्याख्याता पद हेतु आवेदन किया था, जिसमे आवेदक ने गुरु घांसिदास विश्वविद्यालय के बीएड. की अंकसूची लगाईं थी, जिसका सत्यापन कराने पर फर्जी होना पाया गया| फर्जी पाए जाने के बाद मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने गोलबाजार थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई शिकायत दर्ज कराने के बाद उक्त आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश कर दिया गया है, आपको बता दें की इस मामले में 10 लोगों को पूर्व में ही गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जा चुका है|

 

error: Content is protected !!