प्रभारी सचिव ने की जिले में चल रहे विकास कार्यो की समीक्षा

मुंगेली- जिले के प्रभारी सचिव श्रीमती एम गीता ने आज कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में अवर्षा की स्थिति, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, पेयजल, सिंचाई व्यवस्था, मुख्यमंत्री जनदर्शन, कलेक्टर जनदर्शन, पीजी पोर्टल, उज्ज्वला योजना, कौशल उन्नयन विकास योजना, सन्निर्माणी श्रमिकों का पंजीयन, पूरक पोषण आहार, अमृत दूध योजना सहित अन्य योजनाओं की जानकारी ली तथा योजनाओं की प्रगति की विस्तृत समीक्षा की। उन्होने उपसंचालक कृषि और राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया कि अवर्षा की स्थिति एवं सूखे से निपटने के संबंध में आंकलन करें। उन्होन कहा कि राजस्व और कृषि अधिकारी संयुक्त रूप से हल्केवार जानकारी प्राप्त करें। उन्होने जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों से कहा कि सुघ्घर बिहनिया दल और सीएलटीएस का उपयोग सुनिश्चित करें। उन्होने महिला बाल विकास के जिला कार्यक्रम अधिकारी से कहा कि स्वच्छता से सुपोषण तक कार्यवाही सुनिश्चित करें। आंगनबाड़ी केंद्रों में शौचालय और गैस चूल्हा के संबंध में भी मार्गदर्शन किया।
महिला एवं बाल विकास विभाग के सचिव श्रीमती गीता ने श्रमपदाधिकारी को निर्देशित किया कि पंजीकृत सन्निर्माणी कर्मकारों का आधार सीडिंग करना सुनिश्चित करें। उन्होने अधिकारियों को निर्देशित किया कि जनशिकायतों की जांच समय सीमा के भीतर पूरा करें। उन्होने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता को निर्देशित किया कि पेयजल समस्या मूलक गांवों के लिए राइजर पम्प हेतु कार्य योजना बनाये। प्रभारी सचिव ने स्वाइल हेल्थ कार्ड और प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत स्वीकृत कार्य और अत्यंत पिछड़े जनजातियों को जाति प्रमाण पत्र जारी किए जाने के संबंध में जानकारी ली।
बैठक में पुलिस अधीक्षक श्रीमती नीथू कमल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लोकेश चंद्राकर, एसडीएम मुंगेली सुमित अग्रवाल, एसडीएम लोरमी एससी पैकरा, एसडीएम पथरिया केएल सोरी, डिप्टी कलेक्टर जेएस कुशराम, पीआर निर्मल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

error: Content is protected !!