अगवा हुई मासूम बच्ची मिली, पुलिस ने परिजनों को सौंपा  

 

दुर्ग। दुर्ग रेलवे स्टेशन से 47 दिनों की अगवा की गई दुधमुंही को जीआरपी ने खोज लिया है। पुलिस को बच्ची को रेलवे के मालखाने के पास से बरामद किया है। बच्ची को परिजनों को सौंप दिया गया है और वह स्वस्थ हालत में है।मंगलवार को एक युवती इस बच्ची को लेकर भाग गई थी। आरोपी युवती मां के साथ ट्रेन में सफर कर रही थी और बच्ची को दुलार भी रही थी। ऐसे में मां को भरोसे में लेकर युवती ने दुर्ग रेलवे स्टेशन बच्ची को अगवा कर लिया था। मां की शिकायत मिलने के बाद ही आरपीएफ और जीआरपी आरोपी युवती की तलाश में जुट गई थी।

गौरतलब है कि सूरज कुमार निषाद (32) पत्नी लक्ष्मी निषाद (29) और तीन बच्चों के साथ बिलासपुर स्टेशन से गीतांजलि के थ्री टियर बोगी में परिवार सहित बैठा। पोटियाकला निवासी सूरज को दुर्ग स्टेशन पर उतरना था। ट्रेन जब रायपुर स्टेशन पर रुकी तो इसी बोगी में 22 वर्षीय एक युवती और एक युवक सवार हो गए। निषाद परिवार की करीब की सीट पर बैठते ही वह लक्ष्मी की गोद सोई दुधमुंही को दुलारने लगी।रात करीब 3:30 बजे दुर्ग स्टेशन पहुंचते तक वह बच्ची को खिलाती रही। दुर्ग में निषाद परिवार के साथ युवक-युवती भी उतर गए। सूरज परिवार व सामान के साथ प्लेटफॉर्म-1 के पार्सल कार्यालय के पास बैठ गया। यहां भी युवती पहुंच गई और करीब पौन घंटे तक सभी बच्चों के साथ खेलती रही।

error: Content is protected !!