दुर्ग रेलवे स्टेशन से दुधमुही बच्ची को ले भागी युवती

०० पुलिस ने मामला किया दर्ज, घटना की सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही पुलिस  

दुर्ग।यहां रेलवे स्टेशन पर सुबह साढ़े तीन बजे के करीब चीख-पुकार मची तो लोगों की भीड़ जमा हो गई एक मां अपनी 45 दिन की बेटी के लिए चीख-चीखकर रो रही थी। पति महिला को ढांढस बंधा रहा था। पुलिस ने सीसीटीवी खंगाला लेकिन ऐसा कोई सुराग नहीं मिला जिससे महिला को पकड़ सके। पुलिस ने सारे थाने में घटना की सूचना दे दी है।

घटना दुर्ग रेलवे स्टेशन का है यहां बिलासपुर का रहने वाला सूरज निषाद बिल्डिंग का काम करता है। वो अपनी पत्नी लक्ष्मी और 3 बच्चों के साथ यहां रहता है।पति-पत्नी और तीनों बच्चे सोमवार की रात में गीतांजलि एक्सप्रेस से दुर्ग आ रहे थे। इधर रायपुर रेलवे स्टेशन पर एक 22 साल की युवती चढ़ी। उसके साथ एक युवक भी था दोनों इस फैमिली से बात करने लगे। बातचीत के दौरान युवती बार-बार कहती रही कि कितनी क्यूट बच्ची है। वो बच्ची को गोद में लेकर प्यार दे रही थी। चूंकि युवती पढ़ी-लिखी लग रही थी। पहनावे से भी अच्छे घर की लग रही थी ऐसे में इन्हें इस बात का भरोसा हो गया कि ये ऐसा कुछ भी नहीं करेगी।सुबह करीब 3 बजे फैमिली दुर्ग उतरी तो युवती और युवक भी उतर गए। इधर घुप्प अंधेरा होने के चलते फैमिली ने सोचा कि सुबह होने के बाद ही निकलेंगे। रात दुर्ग स्टेशन पर ही काट लेते हैं। दो घंटे की तो बात है। इधर युवती ने भी उनसे यही कहा कि वो सुबह होने पर जाएगी। जमाना बहुत खराब है और उन्हें भी रुकने पर जोर दिया। इधर वो बच्ची को गोद में लेकर पुचकारने लगी और बोली कि इसे बिस्किट दिलाकर लाती हूं। वो स्टेशन के गेट की ओर गई उसके पीछे टहलते हुए वो युवक भी गया। जब युवती नहीं आई तो फैमिली को शंका हुई। व जब गेट की ओर गए तो वहां कोई नहीं था। पहले तो काफी देर तक ढूंढा। जब युवती नहीं मिली तो बच्ची की मां चीख-चीखकर रोने लगी  उसके रोने की आवाज सुन स्टेशन के इक्के-दुक्के यात्री भी आ गए। मामला रेलवे पुलिस बल तक पहुंचा तो उन्होंने स्टेशन में लगे सीसीटीवी को खंगाला। फुटेज में कोई सुराग नहीं मिलने पर उन्होंने सभी थानों को इस घटना से अवगत कराया और बच्ची की फोटो भेज दी।

 

error: Content is protected !!