नकली नोट गिरोह का हुआ भांडाफोड़, दो आरोपी गिरफ्तार  

रायपुर। राजधानी में नकली नोट छापकर मध्यप्रदेश के कटनी के बाजारों में सप्लाई किए जा रहे थे। किराए के मकान में छापकर आरोपी 1 लाख रुपए के नकली नोटों का सौदा 30 हजार रुपयों में करते थे। छोटे नोट पर लोगों का ध्यान नहीं जाता इसलिए सिर्फ 100 रुपए के नकली नोट छापे जा रहे थे। रायपुर क्राईम ब्रांच प्रभारी संजय सिंह ने बताया कि कटनी पुलिस की सूचना पर रायपुर में आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों के पास से नकली नोट और प्रिंटर जब्त किया गया है। कटनी पुलिस तीन आरोपियों को साथ ले गई है।उन्होंने बताया कि आरोपी विशाल एशवानी (30) निवासी सिविल लाईन, ईमरान कुरैशी (35) निवासी राजातालाब रायपुर और रामचन्द्र नागदेव (45) निवासी सिंधी कच्चा कैंप दमोह को गिरफ्तार किया गया है। एक अन्य आरोपी अनिल पंजवानी (50) निवासी तेलीबांधा रायपुर फरार है। आरोपियों के पास से 2 लाख रुपए के नकली नोट, एक कलर प्रिन्टर और स्कैनर जब्त किया गया है। तीनों आरोपियों को आज शुक्रवार शाम कटनी पुलिस अपने साथ आगे की कार्रवाई के लिए ले गई है।
क्राईम ब्रांच प्रभारी ने बताया मध्यप्रदेश कटनी पुलिस ने कल 17 अगस्त को सूचना दी कि रायपुर से नकली नोट लाकर कटनी के बाजारों में चलाया जा रहा है। सूचना पर क्राईम ब्रांच रायपुर की एक टीम एएसआई चेतन दुबे के नेतृत्व में जांच में जुट गई। टीम ने कटनी पुलिस को भी रायपुर बुलाया, जिस पर एसआई बीडी द्विवेदी टीम के साथ रायपुर पहुंचे। टीम को मुखबिर से सूचना मिली थी कि मामले में सिविल लाईन निवासी विशाल एशवानी पर संदेह है।पुलिस ने मामले में इनपुट जुटाए और घेराबंदी कर विशाल को दुर्ग रेलवे स्टेशन से हिरासत में लिया गया। पहले तो उसने मामले में की कोई जानकारी होने से इंकार कर दिया। पुख्ता सबूत होने के कारण पुलिस ने उसके पंडरी स्थित किराए के घर में दबिश दी। जहां से प्रिंटर और 100-100 के नकली नोट मिले। आरोपी विशाल ने पुलिस को बताया कि वह नकली नोट बनाकर बेचता था। 1 लाख रुपए के नकली नोटों को 30 हजार रुपयों में बेचता था। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर उसके घर में बैग में रखे 100-100 के नोट जो 10 हजार रुपए की गड्डी में रखे थे कुल 2 लाख रुपए जब्त किए हैं। टीम ने अन्य सदस्यों के बारे में पूछा तो उसने ईमरान के बारे में बताया, जिसे आज रायपुर के राजातालाब स्थित घर से गिरफ्तार किया गया। गिरोह का एक अन्य सदस्य आरोपी अनिल पंजवानी फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है।मामले में कटनी के माधवनगर थाना में आरोपियों के खिलाफ धारा 489(क)(ख), 420, 34 के तहत अपराध कायम है। गिरफ्तार आरोपियों को कटनी पुलिस अपने साथ ले गई है। वहीं जब्त सामान भी रायपुर क्राईम ब्रांच ने आगे की कार्रवाई के लिए सौंप दिया है।

error: Content is protected !!