शहर के बेटे ने किया गौरवान्वित, संदीप मुरारका बने नौसेना में कमांडर

बिलासपुर| लेफ्टिनेंट कमांडर संदीप मुरारका सैनिक स्कूल अंबिकापुर में जुलाई 2016 से प्रशासनिक अधिकारी के रूप में पदस्थापित है|भारतीय नौसेना ने उन्हें 8 अगस्त 17 को कमांडर के रूप में पदोन्नति प्रदान किया है|इस अवसर पर सैनिक स्कूल अंबिकापुर में प्राचार्य ग्रुप कैप्टिन तरुण खरे एवं उप प्राचार्या अरविन्द नौटियाल की उपस्थिति में एक विशेष सभा का आयोजन कर लेफ्टिनेंट कमांडर संदीप मुरारका को कमांडर रैंक प्रदान किया गया|

संदीप मुरारका विद्या नगर बिलासपुर के निवासी आर.एस.मुरारका के सुपुत्र है,उन्होंने अपनी पढाई वर्जेस इंग्लिश मीडियम स्कूल बिलासपुर एवं इंजीनियरिंग(बी.टेक) की डिग्री भोपाल से प्राप्त की है|कर्मठ और बहु प्रतिभाशाली व्यक्तित्व के धनी संदीप मुरारका का चयन वर्ष 2005 को भारतीय नौसेना ने सब-लेफ्टिनेंट रैंक पर हुआ था,भारतीय नौसेना की 12 वर्ष की सेवा के दौरान कमांडर रैंक तक पहुचकर उन्होंने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है|यह एक संयोग की बात है कि संदीप मुरारका एवं उनकी पत्नी भक्ति गोखले मुरारका दोनों एक ही दिन भारतीय नौसेना में कमांडर रैंक पर पदोन्नत हुए| इस अवसर पर कमांडर संदीप मुरारका ने कहा कि पदोन्नति प्रत्येक सैन्य अफसर के जीवन में महत्वपूर्ण क्षण होता है साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि सेना के किसी भी अधिकारी के पद पर पनी सेवाए देना बहुत ही गौरव की बात है|उन्होंने इस अवसर पर स्कूल के सभी अध्यापको,अपने परिजनों, मित्रो एवं सेना के साथियो का आभार व्यक्त किया |

error: Content is protected !!