राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने की प्रकरणों की सुनवाई

मुंगेली- छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती हर्षिता पाण्डेय ने आज गुरूवार को कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में प्रकरणों की सुनवाई की तथा संबंधित अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए। सुनवाई होने से पीड़ित पक्षकारों को राहत मिली है। आज सुनवाई हेतु 11 प्रकरण रखे गये। जिसमें अनुकम्पा नियुक्ति, टोनही प्रताड़ना, दहेज एवं सम्पत्ति संबंधी प्रकरण शामिल है। श्रीमती पाण्डेय ने पूरी तन्मयता से दर्ज प्रकरणों को सुनी।
ग्राम जरहागांव की श्रीमती सीता कश्यप ने पति स्व. अजय कश्यप की मृत्यु हो जाने पर अनुकम्पा नियुक्ति नहीं किये जाने की शिकायत प्रस्तुत किया। जिस पर जशपुर जिला के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को तलब किया गया। राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने त्रुटिपूर्ण नियुक्ति के निराकरण एक माह के भीतर निराकरण कराने सी.एम.एच.ओ. को निर्देश दिए। वहीं टोनही प्रताड़ना के मामले में 4 सदस्यीय टीम गठित करने कलेक्टर को पत्र लिखने निर्देश दिए गए। इसी तरह जमीन संबंधी समस्या के निदान हेतु एस.डी.एम. लोरमी को पत्र प्रेषित करने निर्देशित किया है। जिला मुख्यालय मुंगेली के मल्लाहपारा की कु. भारती मल्लाह के मामला न्यायालय में प्रस्तुत होने पर प्रकरण नस्तीबद्ध किया गया तथा पीड़ित पक्षकार को बताया कि कोई से फैसला होगा। इसी तरह श्रीमती पार्वतीबाई के पति की मृत्यु होने पर उनके बेटे को कोटवार में अनुकम्पा नियुक्ति हेतु आवेदन पत्र प्रस्तुत किया। जिस पर तहसीलदार मुंगेली को 7 दिवस के भीतर जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने निर्देश दिये।

error: Content is protected !!