अपने काम को ईमानदारी से करना भी सच्ची देशभक्ति-कुलपति

०० सीवीआरयू में हुआ ध्वजारोहण, विद्यार्थी ने दी रंगारंग प्रस्तुतिनाट्य मंचन

बिलासपुर। आज हर व्यक्ति और संस्थान देश के नव निर्माण में अपनी सहभागिता निभा रहा हैं, ऐसे में शिक्षण संस्थानों का दायित्व है कि अधिक से अधिक युवाओं स्किल्ड करें। जिससे युवाओं को रोजगार मिल सके। डाॅ.सी.वी.रामन् विश्वविद्यालय भी प्रधानमंत्री कौशल विकास के माध्यम से हजारों युवाओं को दक्ष कर रहा है। हम स्किल्ड इंडिया और मेन इन इंडिया जैसे अभियान में जुड़कर नवभारत के निर्माण में देश के साथ चल रहे हैं। अपने काम को ईमानदारी से करना भी देश भक्ति ही है।

उक्त बातें डाॅ.सी.वी.रामन् विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.आर.पी.दुबे ने स्वतंत्रता दिवस समारोह में कही। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण किया गया। कुलपति प्रो. दुबे ने ध्वजारोहण कर तिरंगे को सलामी दी। उन्होने अपने संबोधन में कहा कि हर जब देश का हर व्यक्ति और संस्थान देश विकास की भावना से काम करेगा, तो सरकार का नवभारत के निर्माण का सपना साकार हो सकेगा। प्रो.दुबे ने कहा इसके लिए सिर्फ हर व्यक्ति को अपना काम ईमानदारी से करने की जरूरत है। हम शिक्षा के क्षेत्र में काम कर रहे हैं तो आज की जरूरत के अनुसार अधिक से अधिक युवाओं स्किल्ड करना चाहिए। सही मायने में यही देश भक्ति है। उन्होने कहा कि आजादी के लिए हजारों लोगों अपनी जान न्यौछावर किए हैं आज इस आजादी को सहेजकर रखने के साथ प्रगति करने की जिम्मेदारी युवाओं की ही है। इसलिए युवाओं में देशभक्ति की भावना होना जरूरी है। यही तभी संभव है, जब ऐसे आयोजनों में विद्यार्थी बड़ी संख्या में हिस्सा लें। आजादी के इतिहास के विषय में परिचर्चा हो। विश्वविद्यालय ऐसे आयोजन लगातार करता रहेगा। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलसचिव गौरव शुक्ला ने बीते साल की उपलब्धियों और भावी योजनाओं की जानकारी दी। श्री शुक्ला ने कहा कि विश्वविद्यालय के हर विद्यार्थी को जिम्मेदार नागरिक की सोच रखकर जीवन जीना चाहिए, ताकि विश्वविद्यालय से जाने के बाद भी उसके मन में देश भक्ति की जज्बा हो। देश भक्ति का जज्बा उम्र के इस पड़ाव यानी की स्कूली और काॅलेज जीवन में ही संभव है। जब सभी साथ होकर देश के लिए ऐसे आयोजन करते हैं। इस अवसर पर सभी विभागों के विभागाध्यक्ष,प्राध्यापका,विद्यार्थी विद्यार्थी और अंचल के लोग उपस्थित थे। इस अवसर पर विश्वविद्यालय में पौधारोपण भी किया गया। जिसमें सभी ने पौधे लगाए और प्रकृति सरंक्षण करने का संकल्प लिया।

विद्यार्थियों ने दी आकर्षक प्रस्तुति :- इस अवसर पर विश्वविद्यालय प्रांगण में देश भक्ति के विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। जिसमें विद्यार्थियों ने एक से बड़कर एक प्रस्तुतियां दी।  प्रधानमंत्री कौशल विकास के विद्यार्थियों ने हिन्दु,मुस्लिम सिक्ख ईसाई के भेद भाव मिटाकर एकजुट रहने के विषय पर नाटक का मंचन किया। इसके बाद भारत माता की रक्षा विषय पर नाटक का मंचन किया गया। जिसे सभी ने सराहा। इस अवसर पर छात्रा ने मा तुझे सालाम…. गाने के बोल पर नृत्य की प्रस्तुति दी।

error: Content is protected !!