सरकार अमन सिंह को संपत्ति का ब्यौरा सार्वजनिक करने के निर्देश दे : भूपेश बघेल

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल ने राज्य सरकार से मांग की है कि प्रमुख सचिव अमन सिंह की संपत्ति का विवरण सार्वजनिक किए जाएं. उन्होंने सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव को पत्र लिखकर कहा है कि चूंकि अधिकारियों के लिए संपत्ति का विवरण देना अनिवार्य है और यह संविदा कर्मियों के लिए भी लागू होती है इसलिए यह नियम अमन सिंह पर भी लागू होनी चाहिए और उनकी संपत्ति का 2004 से अब तक का विवरण सार्वजनिक होना चाहिए.

कांग्रेस भवन में एक पत्रवार्ता में शासन को लिखे इस पत्र की प्रति जारी करते हुए श्री बघेल ने कहा कि यदि नियम है तो वह सभी पर समान रूप से लागू होना चाहिए. चूंकि अमन सिंह बहुत शक्तिशाली अधिकारी माने जाते हैं इसलिए उन्हें कोई छूट नहीं दी जा सकती.अपने पत्र में श्री बघेल ने लिखा है, “भारत सरकार/राज्य सरकार द्वारा अचल संपत्ति का वार्षिक विवरण प्रस्तुत करना अनिवार्य हैI जिन अधिकारियों द्वारा निर्धारित अवधि में अचल संपत्ति का वार्षिक विवरण प्रस्तुत नही किया जाता, उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के भी प्रावधान हैंI”उन्होंने कहा है कि उक्त निर्देशो के पालन में सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा प्रस्तुत वार्षिक संपत्ति विवरण शासन की वेबसाइट पर अपलोड किये गये तथा आम जन के लिये अवलोकनीय हैंIश्री बघेल ने कहा है, “यह दुर्भाग्यजनक है कि श्री अमन सिंह जो कि प्रमुख सचिव स्तर के अधिकारी हैं तथा राज्य के वरिष्ठतम अधिकारियों में से एक हैं, उनकी संपत्ति का विवरण शासन की वेबसाइड पर नहीं हैI यह उल्लेखनीय है कि ‘संविदा’ अधिकारियों के भी “आचरण नियम” एवं शासन के अन्य सभी निर्देशो का पालन करना अनिवार्य हैI”प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है, “ऐसी परिस्थितियों में, जब श्री अमन सिंह एवं उनके परिवारजनों के उपर सैकड़ों करोड़ की संपत्ति अर्जित करने के आरोप लग रहे हैं, उनकी संपत्ति का विवरण सार्वजनिक किया जाना और भी आवश्यक हो जाता हैI”श्री बघेल ने आशा व्यक्त की है कि अमन सिंह द्वारा प्रस्तुत संपत्ति विवरण की वर्षवार जानकारी (2004 के बाद से अभी तक) शासन की वेबसाइड पर शीघ्र अतिशीघ्र अपलोड करायी जायेगीI यदि उनके द्वारा संपत्ति विवरण की जानकारी नहीं दी जा रही है तो उन्हें जानकारी देने हेतु बाध्य किया जाये तथा अनुशासनत्मक कार्रवाई की जायेI

 

error: Content is protected !!