पूर्व उपराष्ट्रपति आमिद अंसारी के बोल गैरवाजिब : इकबाल रिजवी  

रायपुर। पूर्व उपराष्ट्रपति आमिद अंसारी के, देश में मुस्लिम सामाज बेचैन है, का कथन गैरवाजिब है। हमारे देश का सैक्यूलर संविधान और देशवासियों की सर्वधर्म सम्भाव वाली जहनियत पर सबका भरोसा है। शुक्रवार को ये बातें जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के मीडिया विभाग के चेयरमैन इकबाल अहमद रिजवी ने कही है। साथ ही राष्ट्रीय महासचिव अब्दुल हमीद हयात, अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश अध्यक्ष नोमान अकरम ने भी रिजवी के साथ यह संयुक्त बयान दिया है।
उन्होंने कहा है कि, मुसलमान न केवल भारत वरन दुनिया में जहां भी निवासरत है उसका निगेहबान सर्वव्यापी और सर्वशक्तिमान अल्लाह है। पाकिस्तान जैसे मुस्लिम देशों से ज्यादा हिंदोस्तान में हम सुरक्षित और अमन चैन से रह रहे हैं। यहां यह कहना उचित होगा कि, देश में सभी धर्मावलम्बी सुरक्षित है । कभी कभी कुछ उन्मादी तत्व अपनी अपराधिक हरकतों के कारण देश के सौहाद्र और भाईचारे को नष्ट करने का प्रयास करते हैं , उन्हें देर से ही सही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चेतावनी देते हुए कानून हाथ में लेने पर कड़ाई से रोकने का आह्वान किया है क्योंकि जो जन्म देता है वह ही हमारी हर तरह से हिफाजत भी करता है। हमारे देश का वातावरण भय रहित है। ऊपर वाले के करम से ही हम सभी देशवासी खुश और खुशहाल है। जागरूक देशवासियों को कुछ बताने या सिखाने की जरूरत नहीं है।

 

error: Content is protected !!