ब्लू वॉटर खदान से निकाला गया  किशोरी का शव

रायपुर। नया रायपुर के ग्राम नकटी पुराने खदान तालाब में डूबने से किशोरी की मौत हो गई। सोमवार को देवेन्द्र नगर निवासी भाई बहन घुमने के लिए आए थे। खदान में फोटो खिंचवाने और नहाने के लिए उतरने के दौरान हादसा हुआ। खदान के पास मौजूद लोगों ने दो भाई बहनों को तो बचा लिया लेकिन एक को नहीं बचा सके। मंगलवार सुबह 4 घंटे की मशक्कत के बाद एसडीआरएफ की टीम ने किशोरी का शव बाहर निकाला। माना थाना पुलिस ने मामले में मर्ग कायम किया है।
नया रायपुर के इस खदान को युवा ब्लू वॉटर खदान के नाम से जानते हैं और रोजाना सैर के लिए यहां आते हैं। सोमवार को रक्षाबंधन मनाने के बाद देवेन्द्र नगर से एक परिवार के 4 बहन और 3 भाई नया रायपुर सैर के लिए निकले थे। ऊर्जा पार्क की सैर के बाद वे सभी ब्लू वॉटर खदान आए। फोटो और सेल्फी लेने के लिए पानी में उतरने पर नेहा, सुनयना और छोटा भाई रजत गहराई होने के कारण डूबने लगे। नेहा और रजत को तो लोगों ने बचा लिया लेकिन सुनयना (17) डूब गई। रात तक उसकी खोजबीन हुई लेकिन वो नहीं मिली। थाना प्रभारी जितेन्द्र ताम्रकार और एसडीआरएफ की टीम ने मोर्चा संभाला। एसडीआरएफ ने 4 घंटे में शव को बाहर निकाल लिया। माना थाना पुलिस ने मामले में मर्ग कायम किया है। माना एयरपोर्ट के सामने ग्राम नकटी की यह गिट्टी खदान सालों से बंद है। चुना मिश्रित पानी होने से इसका पानी नीला नजर आता है। इसकी गहराई सौ फीट बताई जाती है। पानी भरने की वजह से घूमने फिरने का एक स्पॉट बन गया है। अधिकतर युवा घूमने, फोटोग्राफी और नहाने पहुंचते है।

error: Content is protected !!