राखी की दुकानो मे लगी भीड

मुंगेली- रक्षा बंधन के पूर्व संध्या पर रविवार को शहर में जगह -जगह राखी की दुकानों में भीड लगी रही है। भाई -बहनों की विश्वास का पर्व रक्षाबंधन का पवित्र धागा रेशम की डोर भी अब मंहगाई से प्रभावित हो गई है। पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष राखियों में दस से पन्द्रह रूपये की बढोतरी हुई है। बाजार में रंग-बिरंगी राखियों की दुकाने सज चुकी है जहा बहने अपने भाईयां के लिए कलाईयां सजाने, विभिन्न प्रकार की विरायटियो के राखियां खरीदने उमडने लगी। सामान्य रूप से राखी तीस चालीस रूपय से उपर मे बिक रही है। दुकानों मे विभिन्न रेंज की राखियां उपलब्ध है। आम तौर पर उपयोग की जाने वाली रेशम की डोर के अतिरिक्त फैशनेवल राखियां भी दुकानों में है। राखी के त्यौहार के लिए बहन अपने भाईयों को राखी भेजने लगी है डाकघर राखी के लिए अलग से व्यवस्था की गई थी, गुलाबी लिफाफे के साथ-साथ पीली पत्र पेटी भी लगाई थी किन्तु वर्तमान में डाकघर में लिफाफा समाप्त हो गया है जिससे बहनों को सादे लिफाफे में अधिक खर्च कर राखी भेजना पड रहा हैं। हर वर्ष डाकघर द्वारा राखी भेजने के लिए आकर्षक लिफाफा का इन्तजाम करती है, और पीला बाक्स लगाकर राखी जल्द लोगो तक पहुच जाए यह प्रयास किया जाता है किन्तु इस वर्ष रंगीन लिफाफे समय से पहले ही समाप्त हो गये है।

error: Content is protected !!