गुजरात और छत्तीसगढ़ में हो रहा सांस्कृतिक,पर्यटन आदान-प्रदान : दयालदास 

०० एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम के तहत छत्तीसगढ़ और गुजरात के बीच हुए एमओयु

रायपुर। छत्तीसगढ़ के लिए सौभाग्य की बात है कि एक भारत श्रेष्ठ भारत के ध्येय को लेकर हम गुजरात के साथ सांस्कृतिक, पर्यटन आदान प्रदान की ओर आगे बढ़े हैं। प्रधानमंत्री की दूरदर्शिता और देश में सांस्कृतिक उत्थान की ओर उठाया गया यह बेहतरीन कदम है। शनिवार को ये बातें छत्तीसगढ़ के पर्यटन मंत्री दयालदास बघेल ने कही । वे एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम के तहत छत्तीसगढ़ और गुजरात के बीच हुए एमओयु के दौरान संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि गुजरात के पर्यटन में अच्छा विकास हुआ है। वहां कच्छ का रण उत्सव और नवरात्रि में गरबा उत्सव देखते ही बनता है। हमारे प्रदेश में भी पर्यटकों की संख्या बढ़ी है। बस्तर, सरगुजा, सहित अन्य स्थानों को घूमने लोगों की संख्या बढ़ रही है। आदिवासी संस्कृति को पास से जानने का मौका लोगों को छत्तीसगढ़ के इन वनांचलों में मिलता है। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति इन दूरस्थ क्षेत्र नहीं जा पाते उनके लिए सरकार की ओर से पुरखौती मुक्तांगन में इन्हें जानने का मौका है। निहारिका बारिक सिंह, सेक्रेटरी टूरिज्म, कल्चर और इंडस्ट्री, छत्तीसगढ़ ने कहा कि, गुजरात में सांस्कृतिक रंग दिखते हैं, पर्यटन के लिए गुजरात एक उत्तम प्रदेश है। वहीं हमारे छत्तीसगढ़ में पर्यटन का रंग हरा है, अर्थात प्रदेश के पर्यटन स्थलों में प्राकृतिक रंग हरियाली का समावेश है। प्रदेश के जंगल में रहने वाले आदिवासी समाज से भारतीय परंपराओं की पहचान मिलती है। छत्तीसगढ़ में ट्राइबल टूरिज्म सर्किट डेवलप किया जा रहा है। गुजरात में कारीगरी के नमूने देखने मिलते हैं, वैसे छत्तीसगढ़ में कोसा निर्माण और उसकी कारीगरी का उत्तम कार्य देखने को मिलता है। 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम के लिए गुजरात का एक दल छत्तीसगढ़ आएगा और हमारे यहां से भी एक दल भेजा जाएगा। स्वतंत्रता दिवस समारोह में दोनों प्रदेशों की सांस्कृतिक झलक एक साथ दिखेगी। जेनू दिवान, मैनेजिंग डायरेक्टर और कमीश्नर ऑफ टूरिज्म, गुजरात ने कहा कि, 2006-07 से गुजरात में पर्यटन के क्षेत्र में ग्रोथ हुआ है। 2010 में अभिनेता अमिताभ बच्चन गुजरात पर्यटन के ब्रांड ऐंबेस्डर बने। गुजरात में होने वाले नवरात्रि उत्सव, रण उत्सव, के बारे में उन्होंने बताया। कार्यक्रम के अंत में गुतरात से आए गरबा ग्रुप की ओर से प्रस्तुति भी दी गई।

error: Content is protected !!