कांग्रेस विधायक दल दिल्ली में करेंगे प्रदर्शन, प्रदेश में लगायेंगे जन-विधानसभा :कांग्रेस

 

००  विस का सत्र फिर से बुलाया जाये,नहीं तो लगाएंगे जन विधानसभा : कांग्रेस 

०० प्रदेश के किसान आत्महत्या कर रहे हैं और सरकार मूकदर्शक बनी हुई है: शर्मा

रायपुर। ढ़ाई दिन में विधानसभा का मानसून सत्र अनिश्चित काल के लिए समाप्त होने से कांग्रेस विधायकों में नाराजगी है, उनका कहना है कि 1 से 11 अगस्त तक चलने वाले मानसून सत्र को ढ़ाई दिन में ही स्थगित कर दिया गया। यदि सत्र फिर से नहीं बुलाया जाता तो कांग्रेस विधायक जनता के बीच जन विधानसभा लगाएंगे। इसके साथ ही कांग्रेस विधायक दल दिल्ली में प्रदर्शन भी करेंगे। शुक्रवार को ये बातें कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने राजधानी के एक होटल में हुई पत्रकारवार्ता में संयुक्त रूप से कही।
उन्होंने आगे कहा कि, विधानसभा में चर्चा होनी थी, गतिरोध भी लोकतंत्र का हिस्सा है। विधानसभा में हमने प्रदेश में 24 किसानों की आत्महत्या के मामले में सारे काम रोक कर चर्चा कराने की मांग की थी। हमारी मांग पर सरकार झुकी और चर्चा कराई गई, शाम तक चर्चा हुई। दूसरे दिन भी विधानसभा चली। तीसरे दिन सुबह विधानसभा की कार्यवाही आरंभ हुई, उसके बाद जो हुआ वो लोकतंत्र में पहली घटना है। अनूपूरक बजट बिना चर्चा के पास करा दिया गया। छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र 11 अगस्त तक चल सकता था जो ढ़ाई दिन में ही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया। कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद हम राज्यपाल से मिले और उन्हें ज्ञापन सौंपकर विधानसभा सत्र आरंभ करवाने की मांग की। सत्र पुन: बुलाया जाना चाहिए, जनता की बात विधानसभा में रखना चाहते हैं। राज्यपाल ने गंभीरता से हमारी बात सुनी है और रिपोर्ट मंगाने की बात कही है। इसके बाद राज्यपाल क्या ऐक्शन लेते हैं उस पर हमारी आगे की रणनीति बनेगी। दिल्ली में भी प्रदर्शन करेंगे।
नेता प्रतिपत्र टीएस सिंहदेव ने कहा कि, डकैती डालने वाला कहे कि मैंने डकैती नहीं डाली। अपरिपक्व प्रयास है बहुमत का। हमें विश्वास में नहीं लिया जाता। मेरा मानना है दबाव की राजनीति है। अब हम जनता के बीच जाएंगे, जन विधानसभा करेंगे। राजधानी रायपुर से आज शुरुआत होगी। रायपुर नगर निगम के सामने दोपहर साढ़े तीन बजे से जन विधानसभा लगाकर सभी विधायक सरकार के काम उनके सामने रखेंगे। इसके साथ ही हर जिले में विधायकों की मौजूगी में जन विधानसभा लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्यपाल को गुरुवार को ज्ञापन सौंपकर सत्र बुलाने की मांग की है। आज पहला दिन है शनिवार तक क्या उत्तर मिलता है देखा जाएगा। हम दिल्ली भी जाएंगे प्रदर्शन करने के लिए।
प्रदेश के किसान आत्महत्या कर रहे हैं और सरकार मूकदर्शक बनी है:-  रायपुर ग्रामीण विधायक सत्यनारायण शर्मा ने कहा कि, लोकतंत्र पर प्रहार किया गया। चक्रव्यूह रचना कर विधानसभा का बचा समय समाप्त करा दिया गया। कोई ऐसी परिस्थिति नहीं थी कि विधानसभा को स्थगित किया जाता। हम किसानों की मौत से दुखी थे इसलिए इस मुद्दे को जोर शोर से उठाया। विधानसभा में तात्कालिक लोकमहत्व के विषय पर चर्चा कराई जाती है। सरकार को चर्चा कराने का आश्वासन देना था। प्रदेश के किसान आत्महत्या कर रहे हैं और सरकार मूकदर्शक बनी हुई है। दूसरे दिन हमें निलंबित किया, बुलाया और फिर चर्चा चली। तीसरे दिन सामान्य वातावरण था, विधानसभा स्थगित कर दी गई।

error: Content is protected !!