राज्यपाल से मुलाकात महज राजनीतिक स्टंट : शिवरतन शर्मा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी प्रवक्ता एवं विधायक शिवरतन शर्मा ने कांग्रेस पार्टी की मा. राज्यपाल से मुलाकात को महज राजनैतिक स्टंट बताते हुए कहा कि विधानसभा सदन का समय सभी गंभीर विषयों पर चर्चा के लिए बहुमूल्य होता है। दो दिन तक कांग्रेस पार्टी के विधायकों  ने प्रश्नकाल चलने नहीं दिया जबकि कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में सभी शासकीय कार्यों के लिए समय निर्धारित किया गया था जिसे सभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से पारित किया था। मंत्रणा परिषद् के निर्णय के अनुरूप सदन चलने के बजाय कांग्रेस विधायक राजनीतिक स्वार्थपूर्ति के लिए सदन में हल्ला करते रहे यदि वे चर्चा करते तो सदन पूरे समय चल सकता था और समय से पूर्व सत्रावसान नहीं होता।

विधानसभा के अनिश्चित काल स्थगन के लिए कोई दोषी है तो वो कांग्रेस पार्टी विधायक हैं। श्री शिवरतन शर्मा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का राज्यपाल से मिलना महज एक राजनीतिक स्टंट है जो छत्तीसगढ़ की जनता की आँख में धूल झोकने मुलाकात एक शगुफाबाजी है। शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश विधानसभा के तर्ज पर छत्तीसगढ़ कांग्रेस पार्टी विधायकों ने सदन न चलने का षडय़ंत्र किया था।  जिस प्रकार मध्यप्रदेश में चार दिन सदन चली  उसी तर्ज पर यहां छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सदन न चलने देने की साजिश कर रही थी। कांग्रेस पार्टी में विधानसभा सत्र हर दिन एक स्थगन प्रस्ताव लाकर स्थगन ठप करने की योजना बना रखी थी फिर शासकीय कार्य कैसे सम्पन्न होता।  ये सब हंगामा की योजना कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान बनाई गई और उन्हीं के दिशा निर्देश पर सदन चलने नहीं दिया गया।

 

error: Content is protected !!