शादी से बचने युवक ने रची स्वयं के अपहरण की साजिश

रायपुर।टाटीबंध के इंजीनियरिंग के छात्र ने अपनी शादी से बचने के लिए झूठे अपहरण की साजिश रची। दोस्तों के साथ मिलकर प्लानिंग की और अपने आप को अगवा करवाया। कार से वह दोस्तों के साथ स्टेशन पहुंचा। वहां से मुंबई जाने के लिए ट्रेन में बैठकर रवाना हो गया। स्टेशन के सीसी टीवी फुटेज में वह कैद हो गया। पुलिस को जांच के दौरान फुटेज में वह नजर आ गया। उसके बाद पूरे घटनाक्रम को लेकर शक हुआ।दोस्तों को घेरा और मोबाइल का लोकेशन ट्रेस किया। कुछ ही घंटों में भेद भी खुला और उसकी लोकेशन भी मिल गयी। नागपुर स्टेशन में पुलिस ने उसे पकड़ लिया।

इंजीनियर छात्र विनश वालिया ने अपने ही अपहरण की फूलप्रूफ प्लानिंग की थी। पहले दोस्तों को विश्वास में लिया।दोस्तों के हां करने के बाद सोमवार को दोपहर पूरे घटनाक्रम को अंजाम दिया। पुलिस अफसरों ने बताया कि टाटीबंध का विनश वालिया(25) रूंगटा इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ाई करता है।वह सुबह घर से कॉलेज जाने के लिए निकला था। उसके बाद से वापस घर नहीं लौटा। उसका साथी मनीष रोचलानी ने पुलिस को सूचना दी।दिनदहाड़े अपहरण की खबर मिलते ही पुलिस फोर्स अलर्ट हो गई। आनन-फानन में तमाम अाला अफसर वहां पहुंच गए। पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच की टीम भी अपहरण के केस की जांच में जुट गई एक टीम को रेलवे स्टेशन और बस अड्डे रवाना किया गया। करीब एक घंटे की जांच के दौरान एक संदिग्ध फुटेज स्टेशन में मिला। उसका चेहरा विनश से मिलता जुलता था। उसी आधार पर पुलिस की तहकीकात की दिशा टर्न हुई। उसके दोस्तों को घेरा गया उनसे अलग-अलग पूछताछ में ज्यादातर दोस्त हड़बड़ा गए और अपने उल्टे सीधे जवाबों में उलझकर फंस गए। इसी बीच छात्र का मोबाइल लोकशन भी मिल गया। पुलिस ने लाेकेशन के आधार पर नागपुर पुलिस की मदद से वहीं गिरफ्तार किया।

आने वाले थे लड़की वाले इसलिए रचा षडयंत्र :- उसके माता-पिता ने पंजाब में रिश्ता किया है। एक-दो दिनों में लड़की वाले आने वाले हैं। वह शादी नहीं करना चाहता था। इस वजह से अपने अपहरण की साजिश रची। वह सबके सामने अपने आप को अगवा बताकर खुद मुंबई जा रहा था। वहां उसकी गर्लफ्रेंड रहती है।उसकी प्लानिंग थी कि कुछ दिन वहां रहकर वह वापस आकर कह देगा कि अपहरणकर्ताओं ने उसे छोड़ दिया है इससे वह अपनी शादी से बच जाएगा।

error: Content is protected !!